News Flash
police recruitment

एक भी सीट रिजर्व न होने के चलते रिजेक्ट हुए आवेदन

हिमाचल दस्तक। चंबा
खाकी वर्दी पहनने की चाह रखने वाले हजारों एसटी युवाओं को सपना पुलिस भर्ती से पहले ही टूट गया है। पुलिस भर्ती में ग्राउंड पर पसीना बहाने से पहले ही युवा आउट हो गए हैं। एसटी के लिए एक भी सीट रिजर्व न होने के चलते ऐसा हुआ है, क्योंकि युवाओं ने एसटी कैटागिरी में आवेदन किया है। एसटी के लिए सीट आरक्षित न होने के चलते उनके फॉर्म रिजेक्ट हो गए हैं।

राष्ट्रीय संयोजक अखिल भारतीय युवा कांग्रेस सुरजीत भरमौरी ने कहा कि हिमाचल के पिछड़े जिला चंबा में पुलिस की होने वाली भर्ती में 54 सीट हैं। इसमें करीब 2 हजार युवाओं के फॉर्म रिजेक्ट हो चुके हैं। यह सभी युवा एसटी से संबंध रखते हैं। ज्यादातर युवा भरमौर व पांगी क्षेत्र से हैं। उन्होंने कहा कि इन युवाओं का सपना ग्राउंड पर जाने से पहले ही टूट गया। बहुत से गरीब युवाओं ने हजारों रुपये खर्च कर भर्ती की तैयारी के लिए जिला के बाहर कोचिंग ली है। उन्होंने कहा कि 54 पद में कोई भी पद एसटी के लिए आरक्षित नहीं है।

अगर 7.5 फीसदी आरक्षण की बात करें तो 8 सीट आरक्षित होनी चाहिए, वहीं आवेदन करते वक्त एसटी का ऑप्शन रखा गया था। रिजेक्ट युवाओं ने फीस बचाने के चलते एसटी श्रेणी को चुना। एसटी के लिए कोई भी सीट रिजर्व न होने के चलते उनके फॉर्म रिजेक्ट हो गए। सुरजीत भरमौरी ने सीएम जयराम ठाकुर से स्वयं मामले में हस्तक्षेप की मांग की है। उन्होंने कहा कि एसटी युवाओं ने फीस में छूट के चलते एसटी श्रेणी में फॉर्म भरा है। भर्ती में 7.5 फीसदी आरक्षण भी दिया जाए, ताकि युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ न हो।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams