presidential tour

29 को टांडा और 30 को एचपीयू दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे कोविंद

29 को एक रात के लिए राष्ट्रपति निवास छराबड़ा में भी रुकेंगे

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के प्रस्तावित हिमाचल दौरे को लेकर सरकार ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। वीरवार को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्रीकांत बाल्दी की अध्यक्षता में राष्ट्रपति के 29 और 30 अक्तूबर को कांगड़ा तथा शिमला के प्रस्तावित दौरे की आवश्यक तैयारियों को लेकर बैठक हुई। बैठक में बाल्दी ने कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद डॉ. राजेंद्र प्रसाद राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय टांडा में 29 अक्तूबर को प्रथम दीक्षांत समारोह में विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान करेंगे।

वह 30 अक्तूबर को शिमला में हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय शिमला में 24वें दीक्षांत समारोह में डिग्री प्रदान करेंगे। डॉ. बाल्दी ने जिला प्रशासन, नगर निगम और सभी संबंधित विभागों को सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए। सामान्य प्रशासन सचिव डॉ. आरएन बत्ता ने कार्रवाई का संचालन किया। पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी, प्रधान सचिव आरडी धीमान, सेना व प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।

एचपीयू दीक्षांत समारोह से पहले टकराव की स्थिति

  • एसएफआई राष्ट्रीय अधिवेशन के कारण शिमला में होनी थी रैली
  • राष्ट्रपति के दौरे को देख नहीं मिल रही अनुमति, बदलेगा स्थल

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
30 अक्तूबर को होने वाले एचपीयू दीक्षांत समारोह में टकराव की स्थिति पैदा हो सकती है। दीक्षांत समोराह में देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शिमला आ रहे हैं और उसी दिन एसएफआई की रैली भी है। वीवीआईपी मूवमेंट को देखते हुए अब एसएफआई को शिमला में रैली आयोजित करने की अनुमति नहीं मिलेगी। हालांकि एसएफआई ने 30 अक्तूबर की रैली की तिथि एक हीने पहले ही तय कर दी थी, लेकिन इस बीच दीक्षांत समारोह में राष्ट्रपति दौरे के चलते ऐसी स्थिति उत्पन्न हो रही है।

ऐसे में अब एसएफआई को यह रैली शिमला से बाहर आयोजित करनी होगी या फिर राष्ट्रपति कोविंद के दिल्ली वापसी के बाद। एसएफआई ने पहली बार 30 अक्तूबर से 2 नवंबर तक हिमाचल में राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित करने का निर्णय लिया है। सम्मेलन के पहले ही दिन शिमला के चौड़ा मैदान में रैली आयोजित करने की रूपरेखा तैयार हो चुकी है।

मगर ऐसा संभव नहीं हैं। एसएफआई राज्य कमेटी से मिली जानकारी के मुताबिक 30 अक्तूबर को होने वाली रैली शिमला शहर से बाहर आयोजित करने की अनुमति के लिए जिला प्रशासन से आग्रह करेगी। यदि भराड़ी पुलिस मैदान के लिए पुलिस प्रशासन से मांग करेगी। ऐसा संभव न हो पाने की स्थिति में यह रैली सम्मेलन के अंतिम दिन यानी 2 नवंबर को हो सकती है।

राष्ट्रपति दौरे को देखते हुए शहर में किसी भी छात्र संगठन या राजनीतिक दलों को रैली एवं अन्य समारोह आयोजित करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। – प्रभा राजीव, एडीएम लॉ एंड ऑर्डर

यह भी पढ़ें – वानी समेत 2 आतंकी ढेर

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams