former mp chandra kumar

कहा कि आलम यह है कि चौकीदार इतना डरपोक है कि वह इस राफेल मसले की जांच जेपीसी से भी नहीं करवाना चाहता

हिमाचल दस्तक। नगरोटा सूरियां
कांगड़ा संसदीय क्षेत्र के पूर्व सांसद चंद्र कुमार ने कहा कि आजाद हिंदुस्तान के इतिहास में राफेल घोटाला सबसे बड़ा घोटाला निकलने का अंदेशा है। इस कारण केंद्र की मोदी सरकार इस की जांच से बचने के लिए कई तरह के हथकंडे अपना रही है।

शुक्रवार को खब्बल में चंद्र कुमार ने कि अलोक वर्मा 31 जनवरी को सेवानिवृत्त हो रहे हैं और उनकी सेवानिवृत्त के मात्र 20-21 दिन रहे हैं, जिनमें मात्र 15 के लगभग ही कार्य दिवस हैं, परंतु वर्तमान मोदी सरकार इतनी डरी हुई हैं कि वह इस वरिष्ठ अधिकारी के 15-16 दिन भी सहन न कर पाई और मात्र 36 घंटों में ही उन्हें हटा दिया। उन्होंने कहा कि आलम यह है कि चौकीदार इतना डरपोक है कि वह इस राफेल मसले की जांच जेपीसी से भी नहीं करवाना चाहता, क्योंकि जांच से दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा।

चंद्र कुमार ने प्रदेश की वर्तमान जयराम ठाकुर सरकार को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि प्रदेश में विकास नाम की जरा भी हलचल नहीं है सभी काम बंद पड़े हैं। इस मौके पर ब्लॉक कांग्रेस ज्वाली के अध्यक्ष कर्नल मलूक सिंह राणा, ब्लॉक कांग्रेस ज्वाली के प्रवक्ता कृष्ण भारद्वाज, ब्लॉक कांग्रेस ज्वाली के संयुक्त सचिव रामपाल धीमान, डॉ. गुलशन आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें – एक वर्ष में नशा तस्करी में गिरफ्तार हुईं 42 महिलाएं

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams