News Flash
Road-to-roads, driving vehicles are dangerous too

नकरोड सदरूनी मार्ग की हालत खस्ता

हिमाचल दस्तक। चुराह : नकरोड सदरूनी मार्ग की हालत खस्ता होने से तहसील चुराह की ग्राम पंचायत हिमगिरी, पंजेई, वणंतर व चीह के लोगों सड़क की काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

पंचयात के लोगों को उपमंडल चुराह से जोडऩे के लिए एक मात्र रास्ता है जिसकी हालात बहुत ही दयनीय हो चुकी है रास्ते मे गड्ढे ही गड्ढे पड़े हुए हैं और वाहन चालकों को सड़क पर चलना मौत को दावत देने जैसा है। इस मार्ग पर न तो क्रैश बैरियर है और न ही मार्ग सही दुरुस्त है। इन पंचायतों की आबादी 12 से 13 हजार के करीब है। यहां के लोगों की हर दिन तीसा के लिए आवाजाही लगी रहती है। उक्त क्षेत्र के लिए एक ही रास्ते की सुविधा है। इस पर चलना बहुत ही मुश्किल है।

इस मार्ग पर एक ही सरकारी बस चलती है इस बस में हर दिन इतनी अधिक भीड़ होती है कि पांव रखने को भी जगह नहीं बचती है। इससे यात्रियों को सफर करने में काफी दिक्कत होती है। अधिक भीड़ होने से यह बस कभी भी अनियंत्रित हो सकती है। इस कारण बड़ा हादसा हो सकता है। सदरूणी सड़क 2010 में बस के लिए उद्घाटन भी हो चुका है, लेकिन इतने वर्षो बाद भी मार्ग को पक्का नही किया गया है। स्थानीय लोगो की माने तो उन्होंने कई बार नेताओं से इस मार्ग को सही दुरुस्त करने की गुहार लगाई, लेकिन अभी तक कोई कदम नहीं उठाया गया।

उन्होंने कहा कि सदरूनी तक मार्ग को बस योग्य पक्का व दुरुस्त किया जाए। वहीं जब अधिशाषी अभियंता पीडब्ल्यूडी तीसा हर्ष पूरी से बात की तो उनका कहना है कि सदरूनी नकरोड मार्ग का कार्य चल रहा है जिसमें ठेकेदारों को काम दे दिया गया और सड़क के आसपास या ब्लैक स्पॉट पर कार्य किया जा रहा है जल्द ही इस माल को पक्का कर दिया जाएगा।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams