News Flash
school bus accident

मारे गए सात मासूमों के परिजनों से मिले एसडीएम संगड़ाह

बयान के लिए हाजिर नहीं हुए डीएवीएन  स्कूल के प्रधानाचार्य

हिमाचल दस्तक। श्रीरेणुकाजी
श्रीरेणुकाजी के खड़कोली में दुर्घटनाग्रस्त स्कूल बस में आठ की मौत के मामले में एसडीएम संगड़ाह राजेश धीमान ने मजिस्ट्रेट जांच शुरू कर दी है। रविवार व सोमवार को उक्त तहकीकात के दौरान अब तक वह मौके पर जाकर मृतक अधिकतर छात्रों के परिजनों से बात कर चुके हैं तथा दुर्घटना संबंधित फोटो व अन्य सबूत भी जुटा चुके हैं। पंद्रह दिन में उपायुक्त सिरमौर को उक्त जांच की रिपोर्ट सौंपी जाएगी। इस मामले में डीएसपी व लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता संगड़ाह से भी विभिन्न जानकारियां ली जाएगी।

सोमवार को एसडीएम सबसे पहले मृतक वाहन चालक रामस्वरूप के परिजनों से मिले। इस दौरान उन्होंने गाड़ी खराब होने तथा चालक के अपने दो बच्चे जो उसी स्कूल में पढ़ते थेए, के गाड़ी में न आने के बात को लेकर भी परिजनों से चर्चा की। दो दिन की जांच के दौरान एसडीएम अब तक बाउनल, कांडो माइनाए बाग रजाना व व खेगुआ गांव का दौरा कर चुके हैं, जहां के अधिकतर मृतक छात्र रहने वाले थे। ग्रामीणों व परिजनों के अनुसार उन्होंने डीएवीएन स्कूल ददाहू की उक्त बस के अक्सर खराब रहने की बात भी एसडीएम को बताई।

अभिभावकों के अनुसार उन्होंने स्कूल के प्रधानाचार्य अथवा बस मालिक से भी इसकी शिकायत भी की थी।

संगड़ाह के गांव घाटों के एक समाजसेवी द्वारा एक वर्ष पहले उक्त बस की खस्ताहालत को लेकर फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट भी डाली गई थी। एसडीएम ने पंचायत सचिव, नंबरदार व अन्य मौजूद लोगों के सामने लोगों के बयान कलम बंद किए। उधर मृतक ड्राइवर रामस्वरूप की बहन के अनुसार वह गाड़ी खराब बता रहा था तथा रविवार से छुट्टियों में गाड़ी का काम करवाने की बात मालिक से हुई थी। छुट्टी से महज एक पहले ही यह गाड़ी हादसे का शिकार हो गई। दादाहु के एक मिस्त्री ने बताया किए वह इस गाड़ी का काफी समय से मैकेनिकल काम कर रहे था। एसडीएम राजेश धीमान ने बताया कि रविवार वह सोमवार को अधिकतर पीडि़त परिवारों के लोगों के बयान लिए जा चुके हैं।

पंद्रह दिन में उपायुक्त सिरमौर को जांच रिपोर्ट सौंप दी जाएगी। एसडीम राजेश धीमान ने कहा कि सभी मृतकों के परिजनों को क्रमश: 20-20 हजार रुपए की फौरी राहत दे दी गई है। जल्द पूरी अथवा चार लाख की मुआवजा राशि जारी की जाएगी। पीजीआई चंडीगढ़ में मारी गई आरुषि के परिजनों को भी सोमवार को राहत राशि दी गई।

एसडीएम राजेश धीमान ने सोमवार को भी कुछ मृतक मासूमों के परिजनों के बयान कलमबद्ध किए। उन्होंने बस के मालिक अथवा स्कूल के प्रधानाचार्य धनेंद्र गोयल को भी तहसील दादाहु में बयान देने के लिए सोमवार को बुलाया थाए मगर वह हाजिर नहीं हुए। प्रिंसिपल को अब मंगलवार को बयान के लिए तलब किया गया है। एसडीएम व तहसीलदार संगड़ाह मृतकों के परिवारों के घर घर जाकर उनके बयान ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें – छात्रा से दुराचार के आरोपी को दो दिन का पुलिस रिमांड

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams