News Flash
school roof

भडेला में खतरे के साए में शिक्षा ग्रहण कर रहे नौनिहाल

कभी भी गिर सकते हैं ईंट के पिल्लर

हिमाचल दस्तक। सलूणी
शिक्षा खंड सलूणी के तहत आते राजकीय प्राथमिक पाठशाला भडेला में दो कमरों के निर्माणाधीन भवन स्कूली नौनिहालों के लिए खतरा बना हुआ है। बच्चों की जान कभी भी जोखिम में पड़ सकती है और अप्रिय घटना घटित हो सकती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार आज से लगभग दस वर्ष पहले उस समय के पंचायत प्रधान द्वारा उस भवन का निर्माण करवाया गया था। मगर इस समय स्कूल भवन की छत गिरने की कगार पर आ गई है, क्योंकि स्कूल के बरामदे के साथ लगी हुई ईंट के पिल्लर बिलकुल टेढ़ें हो चुके हैं, जिससे स्कूल की छत कभी भी गिर सकती है, जिसकी चपेट में बच्चे भी आ सकते हैं और कोई अप्रिय घटना भी हो सकती है।

जानकारी के अनुसार उस स्कूल के भवन का अभी तक पूरा कार्य नहीं करवाया गया है और स्कूल के बरामदे की थमियों के साथ सीमेंट का प्लास्टर न होने के कारण स्कूल की छत इस समय गिरने की कगार पर आ गई है तथा स्कूल के पीछे की दीवार पर सीमेंट का प्लास्टर न होने के कारण बारिश आने पर कमरों के अंदर पानी भर जाता है तथा कमरे तालाब का रूप ले लेते हैं जिससे स्कूल में पढने बाले विद्यार्थियों की जान जोखिम में पड़ सकती है।

अविभावकों का कहना है कि इस मामले को संबंधित विभाग को कई बार अवगत कराया जा चुका है मगर विभाग की तरफ़ से इस और कोई ध्यान नहीं दिया गया है। अविभावकों में परस राम, कर्म सिंह, राजकुमार, हेमराज, चत्रो राम, गुरध्यान आदि ने शिक्षा विभाग तथा जिला प्रशासन से गुहार लगाई है कि इस निर्माणाधीन स्कूल के कमरों की मरम्मत की जाए, ताकि किसी प्रकार का खतरा पैदा न हो। स्कूल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष ओमप्रकाश की मानें तो वो कई बार इस मामले में प्रस्ताव बनाकर संबंधित विभाग और जिला उपायुक्त को सौंप चुके हैं।

यह भी पढ़ें – सरकार को अंग्रेजी भाषा में ही चाहिए शिकायत या सुझाव

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]