seize tiper jcb machines

प्रशासन और पुलिस ने की कार्रवाई

खनन की आड़ में सैकड़ों पेड़ तबाह, निजी भूमि पर भी चलाया पंजा 

ओम शर्मा। खेड़ा
खोखरा गांव में अवैध खनन का बड़ा मामला सामने आया है। खनन माफिया ने JCB मशीनें लगाकर पहाड़ों और साथ लगती निजी व सरकारी भूमि को काफी नुकसान पहुंचाया। खनन माफिया ने सैकड़ों खैर के पेड़ों को जड़ों समेत सफाचट्ट कर दिया। ‘हिमाचल दस्तक’ की निशानदेही पर वन विभाग ने मौके से 2 जेसीबी मशीनों और 2 टिप्परों जब्त किया है।

वहीं, पुलिस, प्रशासन, वन विभाग और माइनिंग विभाग ने मौके पर पहुंचकर कार्रवाई शुरू कर दी है। यह काम बिना अनुमति के चल रहा था। लगभग 800 से 1000 टिप्पर मिट्टी और पत्थर चोरी किए हैं। अनुमति को लेकर अभी पुलिस और माइनिंग विभाग की जांच चल रही है।

प्रशासन ने जमीन की निशानदेही तक खनन के काम को रोक दिया है। हिमाचल दस्तक को नालागढ़ के खेड़ा के तहत खोखरा गांव में अवैध खनन की शिकायत मिली थी। पीडि़त व्यक्ति ने आरोप लगाया था कि उसकी निजी भूमि को खनन माफिया ने तबाह कर दिया और साथ लगती भूमि को भी खनन से खतरा पैदा हो गया है।

स्थानीय नेता पर लगाए आरोप

शिकायकर्ता डीके शर्मा के अनुसार, एक स्थानीय नेता ने उनकी जमीन के बिलकुल साथ नियमों को ताक पर रखकर खुदाई का काम शुरू किया था। डीके शर्मा ने बताया कि उनकी लगभग 1.5 बीघा भूमि को पीला पंजा चलाकर तबाह कर दिया गया और मिट्टी व पत्थर चोरी कर लिए। स्थानीय नेता ने सरकारी भूमि से लगभग 600 खैर के पेड़ व अन्य हरे पेड़ों को भी साफ कर दिया। शिकायतकर्ता ने इस मामले की शिकायत एसडीएम नालागढ़ को सौंपी है।

रात को घटनास्थल की रेकी, सुबह कार्रवाई

सूचना मिलने के बाद जब हिमाचल दस्तक की टीम ने युवा समाजसेवी एंव इंटक जिलाध्यक्ष बबलू पंडित के साथ रात को मौके का मुआयना किया तो वहां सैकड़ों बीघा निजी व सरकारी भूमि से मिट्टी, पत्थर और खैर के पेड़ तबाह कर दिए गए थे। रात के समय JCB मशीनें, टिप्पर व गाडिय़ां खड़ी थीं।

CM जयराम से लगाई कार्रवाई की गुहार

इंटक के जिलाध्यक्ष बबलू पंडित ने आरोप लगाया कि मामला सामने आने के बाद कई नेता मौके पर पहुंचे और पुलिस और प्रशासन पर मामले को दबाने का दबाब बनाया। बबलू पंडित ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से खनन माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की गुहार लगाई है।

मशीने छोड़ मौके से भागे ऑपरेटर

वीरवार सुबह जैसे ही हिमाचल दस्तक की टीम इंटक जिलाध्यक्ष बबलू पंडित के साथ खेड़ा के खोखरा में घटनास्थल पर पहुंची तो JCB ऑपरेटर मशीनें छोड़कर भाग गए। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस, वन विभाग व माइनिंग की टीम ने सारी स्थिति का जायजा लिया और कार्रवाई शुरू की।

वन विभाग की टीम ने मौके का मुआयना कर 2 जेसीबी और 2 टिप्परों को जब्त किया है। रूहानी स्टोन क्रैशर के मालिक को जमीन की निशानदेही करवाने के आदेश जारी किए गए हैं। वन विभाग की भूमि पर अवैध खनन और खैर के पेड़ों को उखाडऩे के मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। -जवाहर स्वरूप, डीएफओ, वन विभाग नालागढ़ 

सूचना मिलते ही नालागढ़ पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। मौके की वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी भी की गई है। मामला वन विभाग, सरकारी भूमि व निजी भूमि से जुड़ा है, जिसके चलते सभी विभागों की जांच जारी है। नालागढ़ पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। – राहुल नाथ, एसपी, पुलिस जिला बद्दी।  

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams