News Flash
poisonous fruit

पांवटा में बच्चों ने जंगल में खाए फल, बिगड़ा स्वास्थ्य

पांवटा सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। पांवटा साहिब
पांवटा साहिब में क्रशर पर काम करने वाले तीन मजदूरों के बच्चों ने जहरीले फल खा लिए। इसके कारण अचानक उनकी तबीयत खराब हो गई, जिन्हें प्राथमिक उपचार के लिए सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। पांवटा साहिब में जहरीले फल खाने से 7 बच्चों को अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। इसमें से एक बच्चे के परिजन उसे दवाई दिलाकर घर ले गए हैं। बच्चों ने दिन में करीब 3 बजे यह फल खाए। जब शाम साढ़े 6 बजे के आसपास परिजन घर पहुंचे, तो देखा कि बच्चों को उल्टियां लग रही हैं।

इस बारे में डॉ. कमाल पाशा ने बताया कि श्यामू, शिखा, शिवानी, किश्ना, शैलेश, रूपा जिनकी उम्र महज 7 से 12 वर्ष के बीच में है। शाम साढ़े 8 बजे के करीब सिविल अस्पताल में पहुंचाए गए है, जिनका उपचार चल रहा है। बच्चों की स्थिति खतरे से बाहर है। इस बारे में बच्चों के परिजनों ने बताया कि वे सब अपने-अपने काम पर गए हुए थे। जब वह शाम को घर पहुंचे तो बच्चों की हालत खराब थी।

बच्चों ने बताया कि उन्हें भूख लगी थी और वह पास में ही जंगल चले गए और वहां उन्हें पौधे पर कोई फलनुमा चीज लटकी मिली और उन्होंने वह खा लिए। इसके थोड़ी देर बाद ही उन्हें उल्टियां होने लगी। वही इस बारे में वरिष्ठ डाक्टर कमाल पाशा ने बताया कि शाम साढ़े 8 बजे के करीब सात बच्चे जहरीले फल खाने के कारण अस्पताल पहुंचे है, जिनका इलाज किया जा रहाहै। फिलहाल बच्चों कि हालत स्थिर है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams