News Flash
scientific waste execution

 डायरेक्टर अर्बन, बीबीएनडीए, प्रदूषण विभाग व नप के अधिकारियों ने लिया हिस्सा

  • देश की 6 फर्मों ने केंदूवाल कचरा साईट के लिए दिए सुझाव व निविदाएं
  • प्रस्ताव उच्चाधिकरियों को जाने के बाद जल्द मिल सकती है हरी झंडी

ऊमा धीमान। बद्दी
केंदूवाला में वैज्ञानिक कचरा निष्पादन को बीबीएनडीए व संबंधित विभागों ने कदमताल तेज कर दी है। केंदूवाला कचरा साईट को लेकर उठे विवाद और शिमला से आई तीन सदस्यीय टीम के निर्देशों पर संबंधित विभाग गंभीर दिख रहे हैं। इसी कड़ी के चलते शुक्रवार को बीबीएनडीए कार्यालय में एक अहम बैठक डायरेक्टर अर्वन डिवेल्पमेंट डा. डीके गुप्ता की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में बीबीएनडीए के डिप्टी सीईओ, सैनिटेशन एक्सपर्ट, प्रदूषण विभाग, नगर परिषद बद्दी, नालागढ़ व परवाणू के अधिकारी उपस्थित रहे। बैठक का अहम मुद्दा देश भर से आई फर्मों से सुझाव, प्रस्ताव व केंदूवाल साईट पर डंप किए जा रहे मैटीरियल के संबंध में फर्मों की इंक्वायरीज को क्लेयर करना रहा।

बीबीएनडीए कार्यालय में हुई इस बैठक में डायरेक्टर अर्वन डिवेल्पमेंट डा. डीके गुप्ता, डिप्टी सीईओ राजीव शर्मा, सैनिटेशन एक्सपर्ट बलदेव भारती, अर्वन डिवेल्पमेंट अधिकारी राजेश्वर चौहान के समक्ष देश भर से आई 6 फर्मों ने अपने सुझाव रखे व निविदाएं दी। श्री रूलर डिवेल्पमेंट प्रोग्राम ट्रस्ट बैंगलौर के आर धवन, भारूच इनवायरो इंफ्रास्टक्चर लिमिटेड बड़ौदरा गुजरात के हार्दिक शाह, एमओयूट गु्रप के कोडिनेटर आरडी शर्मा, सीडीसी मोहाली के दीपक कुमार व श्री श्याम इंडस्ट्रीज लालडू के कोडिनेटर अमित, वेल कंपनी के सुदर्शन सिंह ने विभाग से इंक्वायरीज मांगी। वहीं फर्मों ने केंदूवाल में वैज्ञानिक कचरा निष्पादन यूनिट लगाने के लिए प्रस्ताव व निविदाएं भी दीं।

सभी फर्मों से विस्तार में चर्चा की और कूड़े के वैज्ञानिक निष्पादन को सुझाव मांगे

बीबीएनडीए के डिप्टी सीईओ राजीव शर्मा ने बताया कि बैठक में गहन विचार विमर्श के बाद सारी रिपोर्ट तैयार करके सरकार व उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी। जल्द ही सरकार व उच्चाधिकारियों से हरी झंडी मिलने के बाद केंदूवाला में वैज्ञानिक कचरा निष्पादन यूनिट का काम शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस बाबत पहले भी फर्मों को बुलाया गया था लेकिन एक ही फर्म उपलब्ध होने के कारण टैंडर प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई थी।

लेकिन शुक्रवार की बैठक में देशभर से आई 6 फर्मों ने केंदूवाल कचरा साईट पर आधुनिक वैज्ञानिक कचरा निष्पादन यूनिट लगाने के लिए रूची दिखाई है। उन्होंने बताया कि बैठक में डायरेक्टर अर्वन डिवेल्पमेंट डा. डीके गुप्ता, सैनिटेशन एक्सपर्ट बलदेव भारती व यूडी अधिकारी राजेश्वर चौहान ने सभी फर्मों से विस्तार में चर्चा की और कूड़े के वैज्ञानिक निष्पादन को सुझाव मांगे।

बैठक में डायरेक्टर अर्वन डा. डीके गुप्ता, बीबीएनडीए के डिप्टी सीईओ राजीव शर्मा, सैनिटेशन एक्सपर्ट बलदेव भारती, यूडी अधिकारी राजेश्वर चौहान, प्रदूषण विभाग के एक्सईएन अविनाश शारदा, नगर परिषद बद्दी के कार्यकारी अधिकारी अजमेर ठाकुर, ईओ परवाणू सुधीर शर्मा समेत कंपनियों के अधिकारी व कॉडिनेटर उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें – धर्मशाला, मनाली और रोहतांग में भी उड़ेगी हेलि टैक्सी

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams