News Flash
punishment husband

नाहन की जज गीतिका कपिला ने सुनाया फैसला

हिमाचल दस्तक। नाहन
न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी नाहन की न्यायधीश गीतिका कपिला ने दहेज के लिए प्रताडि़त करने के मामले में दोषी परिवार वालों को 6 माह का कारावास व 1 लाख 8 हजार जुर्माना की सजा सुनाई। जिला न्यायवादी अमरीक सिंह नेगी ने बताया कि पीडि़त महिला की शादी 2015 में करतार सिंह निवासी मोहल्ला गोबिंदगढ़ नाहन के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय बाद से ही महिला के ससुराल वाले उसे दहेज लाने के लिए प्रताडि़त व मारपीट करना शुरू कर दिया। पीडि़ता का पिता गरीब होने के चलते दामाद को बाइक और कार देने में असमर्थ था।

पीडि़ता ने तंग आकर नाहन थाने में शिकायत दर्ज करवाई। इसके बाद पुलिस ने मामले में छानबीन कर चालान अदालत में पेश किया और अदालत ने दोषियों को यह सजा सुनाई। कोर्ट ने महिला के पति करतार सिंह व रिशतेदार इंदरजीत सिंह, काकी कोर, जसविंदर कोर, गुरबचन सिंह व जसवंत सिंह निवासी मोहल्ला गोविंदगढ़ नाहन को धारा 498ए आईपीसी में 6 माह का कारावास, 406 आईपीसी में 3 माह का कारावास और 506 आईपीसी में 6 माह का साधारण कारावास की सजा सुनाई है।

इसके अतिरिक्त इन धाराओं में दोषीगणों को कुल एक लाख 8 हजार रुपये जुर्माने की सजा भी सुनाई गई है। जुर्माना न अदा करने की सूरत में दोषियों को अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। अदालत ने आदेश दिया है कि यह जुर्माना राशि पीडि़ता को बतौर मुआवजा अदा करना होगा।

यह भी पढ़ें – स्पोट्र्स चैनलों पर नजर आएंगी पट्टा-महलोग की भावना

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams