Special provision for strict action in the law regarding Anti-Rengi: Sanjeev Kumar

ललित ठाकुर । पधर : पुलिस थाना प्रभारी पधर संजीव कुमार ने कहा कि ऐंटी रैगिंग को लेकर कानून में सख्त कार्यवाही का विशेष प्राव्धान रखा गया है। इसके लिए संस्थान की कार्यवाही के साथ साथ पुलिस की मद्द भी न्याय को लेकर पीडि़त द्वारा ली जा सकती है।

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान पधर में एंटी रैगिंग को लेकर आयोजित एक दिवसीय जागरूकता कार्यशाला की अध्यक्षता करते हुए थाना प्रभारी ने कहा कि शिक्षा संस्थानों, प्रशिक्षण संस्थानों सहित तमाम कालेजों में उत्पात और उत्पीडऩ की गतिविधियों पर पूरी तरह से कानूनी रोक है। उन्होंने रैगिंग के दुष्प्रभावों के बारे में चेताया कि इस प्रकार की गतिविधियों में दोषी पाए जाने पर संस्थान की कार्यवाही के साथ साथ पीडि़त पुलिस थाना में भह एफआईआर करवा सकता है।
कानूनी तौर पर दोषी को तीन साल की सजा का प्राव्धान है। संस्थान के प्रधानाचार्य हरेंद्रपाल बैहल ने प्रशिक्षणार्थियों को रैगिंग न करने की हिदायत दी। संस्थान स्तर पर जांच में दोषी पाए जाने पर संस्थान से ही निष्काषित किया जा सकता है।  संस्थान सदस्यगण दिनेश कुमार, हरीश कुमार, अंकुश शर्मा, हरीश भारद्वाज, शिवानी शर्मा, सुमन कुमारी, कौशल्या देवी भी उपस्थित रही।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams