जोगिंद्रनगर : जोगिंद्रनगर में चार दिनों तक चलने वाली खण्ड स्तरीय खेल कूद प्रतियोगिता का शुभारम्भ शनिवार को जिला भारतीय जनता पार्टी के महामंत्री पंकज जम्वाल ने किया।

इस अवसर पर अपने सम्बोधन में उन्होनेें कहा कि पढाई के साथ-साथ व्यक्ति के जीवन में खेलों का भी बहुत महत्व है। एक ओर जहां पढाई से ज्ञान में बढौतरी होती है,तो वहीं दूसरी ओर खेलों से शरीर का विकास होता है। उन्होनें कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार ने ग्रामीण स्तर पर छिपी प्रतिभावों को तलाशने तथा उनको निखारने के लिये 1943 करोड का प्रावधान किया है। जिसके साकारात्मक परिणाम आज देश के सामने हैं।

आज कामनवेल्थ गेमस में भारत का शानदान प्रर्दशन देश के लिये गर्व की बात है।उन्होनें कहा कि वैसे प्रदेश सरकार ने भी सरकारी नौकरीयों में खेलों के लिये 3 प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया है। जिसका लाभ आज हमारे खिलाडियों को मिल रहा है। जम्वाल ने कहा कि प्रदेश में खेलों के प्रति युवाओं का रूझान बढ़ा है। जो.नगर भी इससे पीछे नहीं रहा है। इसके लिये उन्होने सरकारी स्कूलो के शारीरिक शिक्षकों को बधाई दी।

उन्होनें कहा कि जो.नगर खेल मैदान के कोच गोपाल ठाकुर इस दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे है। उन्हें इस बात की खुशी है कि प्रदेश पुलिस तथा सेना की भर्ती में इस खेल मैदान से प्रशिक्षित छात्र सबसे ज्यादा चयनित हो रहे है। उन्होनें युवाओं से आहवान किया कि वह नशे से दूर रहे।

पंकज जम्वाल ने कहा कि जोगिंद्रनगर के मैदान में अंतराष्ट्रीय स्तर पर नाम कमाने वाले एसी प्रतिभाऐं विराजमान है जिनसे हमें प्रेरेणा लेनी चाहिए। उन्होनें कहा कि अंर्तराष्ट्रीय कोच हेम सिंह,बलदेव ठाकुर,बंसी राम,शम्भू राम जसवाल ऐसी विभूतीयां रही हैं,जिन्होनें खेलों के जरिये प्रदेश का नाम देश व अंतराष्ट्रीय स्तर पर रोशन किया है। वहीं नेकराम शास्त्री,गोपाल शर्मा,व टेक चन्द परमार, ने राष्ट्रीय शिक्षक पुरूष्कार जीत कर जो.नगर का नाम रोशन किया है।

उन्होने कहा कि हमें इनसे प्ररेणा ले कर अपनी मंजिल में वह मुकाम हासिल करना है जो सपना आपके मां-बाप ने देख रखा है। उन्होनें कहा कि उनके सामने यह बात लाई गई है कि वर्षो से खिलाडी की रोजाना डाईट 60 रू चल रही है। उन्होनें कहा कि वह इस विषय को खेल मन्त्री गोविन्द ठाकुर के समक्ष उठा,इसको 150 से 200 रू करने का प्रयास करेगें। उन्होनें खिलाडियों को बधाई दी कि आज उन्हें एक ऐसा सी.एम मिला है,जो स्ंवय खेल प्रेमी है व गरीब परिवार से जुडा है।

उन्होनें कहा कि वह सी.एम से भी आग्रह करेगें की खिलाडियों की हर जरूरत का ध्यान रखा जाये। इससे पहले प्रधानाचार्य प्रकाश राठौर ने अपने सम्बोधन में जानकारी देते हुये कहा कि चार दिनों तक चलने वाली इस प्रतियोगिता में 22 स्कूलों के 350 छात्र भाग ले रहे है। इससे पहले जम्वाल का स्कूल के प्रागण में पहुचने पर स्वागत किया गया।

उन्होनें स्कूलों के मार्चपास्ट की सलामी ली। समारोह में नप उपाध्यक्ष संतोष शर्मा,पाषर्द जोगिन्द्र शर्मा,मनू शर्मा,शक्ति राणा,व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अरूण बरठा,शहरी उपाध्यक्ष राजीव सूद,हिमालयन नर्सिंग कालेज के प्रबंधक राजेन्द्र मण्डयाल सहित अन्य लोग मौजूदथे।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams