News Flash
raise funds tribal areas

मार्कंडेय के पक्ष रखने के बाद सरकार ने जारी की अधिसूचना

कांग्रेस ने 2014 में जनजातीय बजट से करनी शुरू कर दी थी कटौती

संदीप शर्मा। कुल्लू
सर्दियों के मौसम में जनजातीय जिलों के लिए होने वाली उड़ानों का जो भी अतिरिक्त खर्चा आएगा उसे प्रदेश सरकार ही उठाएगी। इस साल जनजातीय क्षेत्रों के लिए हेलिकॉप्टर की नियमित रूप से उड़ानें होंगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अपने दौरों के लिए एक अन्य चौपर कंपनी से करार कर उसे हायर कर लिया है। कृषि मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय ने प्रदेश सरकार के समक्ष पक्ष रखा की जनजातीय क्षेत्रों के लिए शुरू से ही हेलिकॉप्टर की उड़ानों का खर्चा सरकार खर्च करती आई है। लेकिन वर्ष 2014 में कांग्रेस सरकार ने जनजातीय क्षेत्रों को आने वाले बजट से इसकी कटौती को करना शुरू कर दी थी।

विकास कार्यों के लिए आया आधे से ज्यादा पैसा हेलिकॉप्टर की उड़ानों पर ही खर्च किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने इस पर हामी भरते हुए अधिसूचना जारी कर दी है कि जनजातीय क्षेत्रों को होने वाली उड़ानों का खर्चा प्रदेश सरकार की ही उठाएगी और बजट जनजातीय क्षेत्रों के विकास कार्यों पर ही लगाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के जनजातीय क्षेत्रों को केंद्र से रुपये का बजट विकासात्मक कार्यों के लिए आता है। भौगोलिक परिस्थितियों के हिसाब से कई बार आने वाला बजट भी विकासात्मक कार्यों के लिए कम पड़ जाता है।

रोहतांग सुरंग से लोगों को जाने की दी जाएगी परमिशन : मार्कंडेय

डॉ. रामलाल मार्कंडेय ने कुल्लू में अनौपचारिक बातचीत में बताया कि इस बार लाहौल-स्पीति के लिए हेलीकॉप्टर की उड़ानों को सुचारू रूप से जारी रखा जाएगा। लाहौल के लोगों को रोहतांग सुरंग से जाने की परमिशन भी दी जाएगी, ताकि लोगों को आने-जाने में परेशानियों का सामना न करना पड़े।

उन्होंने कहा कि वह निरंतर रूप से रोहतांग सुंरग के निर्माण कार्य पर भी नजर रखे हुए हैं। इस सर्दी के मौसम में रोहतांग सुरंग पूरी तरह से बनकर तैयार हो जाएगी। सर्दियों के मौसम में लोगों को विशेष परमिशन के साथ टनल से वाहनों की आवाजाही को शुरू करवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें – कांग्रेस-तेदेपा एकजुट

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams