News Flash
State Government expresses willingness to provide better health facilities to mother and baby

सिराज के बगश्याड़ में पोषाहार सप्ताह के दौरान बोले सीएम जयराम

हिमाचल दस्तक। मंडी : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि महिलाओं को प्रसव पूर्व व प्रसव के बाद बेहतर स्वास्थ्य चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने और माता व शिशु को अच्छा पोषाहार सुनिश्चित बनाने के लिए प्रदेश सरकार कृतसंकल्प है।

यह बात सिराज क्षेत्र के बगश्याड़ में पोषाहार सप्ताह के अवसर पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, महिला मंडलों व पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने श्रेष्ठ पोषाहार सुनिश्चित करने के लिए आंगनबाड़ी कर्मियों, महिला मंडलों व पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधियों को शपथ दिलाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार माताओं, शिशुओं और किशोरों को बेहतर स्वास्थ्य उपचार व पोषाहार सुविधाएं सुनिश्चित कर रही है।
उन्होंने अभियान को सफल बनाने के लिए लोगों के सक्रिय सहयोग का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने बगश्याड़ गिंभर राम को पारंपरिक वाद्ययंत्र के निर्माण के लिए और राज्य कला भाषा एवं संस्कृति विभाग की गुरु-शिष्य परंपरा योजना के तहत लकड़ी की नकाशी के लिए काश्तकला प्रशिक्षण केंद्र सिराज के इंद्र सिंह को सम्मानित किया।इसके अलावा पांच शिष्यों को उक्त दोनों विधाओं के लिए सम्मानित किया। अध्यापकों को एक वर्ष के लिए 3000 रुपये प्रतिमाह, जबकि छात्रों को 1000 रुपये प्रतिमाह मानदेय प्रदान किया जाएगा।

हिमाचल दर्शन फोटो गैलरी में पहुंचे मुख्यमंत्री, लिया जायजा

हिमाचल दस्तक। मंडी : सिराज दौरे के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बुधवार को बिंदरावणी स्थित हिमाचल दर्शन फोटो गैलरी परिसर में रुके। गैलरी के संस्थापक बीरबल शर्मा ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया था कि वह कुछ क्षण यहां रुककर फोरलेन से जुड़ी वास्तविकताओं की सच्चाई मौके पर देखें। मुख्यमंत्री ने इस आग्रह को स्वीकार किया। मुख्यमंत्री को बताया कि लोगों को भरी बरसात में भवन तोडऩे के लिए मजबूर किया गया। बिजली काट दी गई, बिजली की एचटी व दूसरी लाइनें बीच सड़क से गुजर रही हैं, उनको बदला नहीं जा रहा है।

हैंडपंपों व पानी की लाइनों को भी बदला नहीं गया है। काम पूरी तरह से बंद पड़ा है, मगर बिजली-पानी के कनेक्शन काट कर डराने का काम जारी है। अभी जमीन के कई खसरा नंबरों की नोटिफिकेशन नहीं हुई है। कई लोगों को मुआवजा नहीं दिया गया है। लोगों की जमीन को लेकर उन्हें बेदखल करने का प्रयास किया जा रहा है। बीरबल ने बताया कि प्रदेश रोड साइड लैंड कंट्रोल एक्ट 1968 व टीसीपी एक्ट लागू कर लोगों को शेष बची से बेदखल किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने सच्चाई को जानकर हैरानी जताई। मुख्यमंत्री ने कहा कि जल्द ही फोरलेन संघर्ष समिति के साथ उच्चस्तरीय वार्ता कर इस सारे मसले को सुलझाया जाएगा।

बीरबल ने कहा कि यदि सरकार ने नियमों में ढील नहीं दी और बिजली-पानी व जमीन से वंचित कर दिया तो वह इस सारे संग्रह का सार्वजनिक रूप से ब्यास में विजर्सन कर देंगे। मुख्यमंत्री को इस संबंध में एक ज्ञापन भी सौंपा गया। उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार फोरलेन प्रभावितों की हर समस्या का समाधान तलाशने का प्रयास करेगी। इस मौके पर मुख्यमंत्री की पत्नी साधना ठाकुर, सांसद रामस्वरूप शर्मा, विधायक राकेश जम्वाल, उपायुक्त, पुलिस अधीक्षक मंडी और अन्य आलाअधिकारी मौजूद रहे।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams