News Flash
stress free classes

हर कक्षा में आधे घंटे तक विद्यार्थियों की होगी काउंसलिंग

शिक्षा विभाग की टीम जाएगी स्पेशल काउंसलिंग करने

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
प्रदेश के स्कूलों में बच्चों का तनाव भगाने के लिए स्ट्रेस फ्री विषय पर कक्षाएं लगाई जाएंगी। शिक्षा विभाग ने बच्चों में बढ़ते तनाव को देखते हुए आत्महत्या के उठाए जा रहे कदम पर अंकुश लगाने के लिए यह फैसला लिया है। आगामी कदम उठाने के लिए सभी उपनिदेशकों को शिक्षा विभाग की ओर से एक पत्र भी जारी किया जा रहा है। इसमें प्रति दिन बच्चों की आधा घंटा तनाव को दूर करने के लिए काउंसलिंग की जाएगी।

शिक्षक बच्चों की काउंसिल करेगा। बच्चे में हो रहे हर प्रकार के तनाव को दूर करने के लिए शिक्षा विभाग इस योजना को जल्द ही अमलीजामा पहनाने जा रहा है। गौर हो कि इस योजना के क्रियानवयन में जिला उपनिदेशकों क ो अहम जिम्मेदारी सौंपी जा रही है। इसमें उपनिदेशक स्वयं भी जाकर बच्चों को काउंसिल करेगा ही वहीं हर एक माह में एक चिकित्सक द्वारा तनाव के उपर एक स्पेशल लेक्चरर बच्चों के लिए रखा जाएगा।

शिक्षा विभाग के मुताबिक वह अपने स्तर पर भी एक टीम का गठन कर रहा है, जो स्कूलों में स्वयं जाकर बच्चों को तनाव से दूर करने के लिऐ काउंसिल करेगी। जिसमें टीम की जिम्मेदारी संयुक्त उच्च शिक्षा निदेशक को सौंपी जा रही है। विभाग ने साफ किया है कि स्कूलों में लगने वाली इन स्पेशल कक्षांओं पर चेक भी रखा जाएगा, जिसकी जांच उपनिदेशक करेंगे।

स्कूलों में बच्चों का तनाव दूर करने के लिए स्ट्रेस फ्री क्लासिस लगेंगी। इसमें शिक्षा विभाग से भी टीम काउंसलिंग के लिए स्कूलों का विजिट करेगी। -सोनिया ठाकुर, संयुक्त निदेशक, उच्च शिक्षा विभाग

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams