Sugar extra quota

लाखों उपभोक्ताओं की उम्मीदों को लगा झटका

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
प्रदेश सरकार ने त्योहारी सीजन में लाखों उपभोक्ताओं की उम्मीदों को झटका दिया है। अब की बार दिवाली पर उपभोक्ताओं को चीनी का अतिरिक्त कोटा नहीं दिया जाएगा। खाद्य नागरिक आपूर्ति विभाग की ओर से भेजे गए प्रस्ताव को नामंजूर कर दिया है। ऐसे में प्रदेश के 18, 26, 250 परिवारों को अब अतिरिक्त मात्रा में चीनी नहीं दी जाएगी।

पहले हर बार त्योहारी सीजन में प्रति व्यक्ति 100 ग्राम चीनी अतिरिक्त दी जाती थी, लेकिन केंद्र से सब्सिडी बंद होने के बाद प्रदेश सरकार में अपने स्तर पर चीनी की अतिरिक्त मात्रा देने से इंकार कर दिया है। अक्तूबर माह में उपभोक्ताओं को पहले की तरह निर्धारित मात्रा में प्रति व्यक्ति आधा किलो चीनी ही मिलेगी। अभी अगले कुछ महीनों में भी उपभोक्ताओं को चीनी मिलती रहेगी। इसके लिए पहले ही चीनी की खरीद के लिए सप्लाई ऑर्डर जारी किया जा चुका है।

अप्रैल से बंद है सब्सिडी

केंद्र सरकार ने अप्रैल माह में चीनी पर सब्सिडी देने से इंकार कर दिया था। ऐसे में चुनावी साल को देखते हुए प्रदेश सरकार ने अपने स्तर पर ही चीनी पर सब्सिडी देने का निर्णय लिया था, हालांकि सरकार ने मात्रा घटाने के साथ चीनी के रेट बढ़ा दिए थे। इसके बाद भी बाजार से सस्ते रेट पर मिलने के कारण उपभोक्ता डिपुओं से हाथों हाथ चीनी खरीद रहे हैं।

वर्तमान में डिपुओं में चीनी की लिफ्टिंग सौ फीसदी है। पहले केंद्र चीनी पर प्रति क्विंटल 1850 रुपये सब्सिडी देता था। एपीएल उपभोक्ताओं को चीनी 19.50 रुपये प्रति किलो मिलती थी, जबकि बीपीएल परिवारों को 13.50 रुपये प्रति किलो के हिसाब से चीनी दी जाती थी।

प्रदेश सरकार अपने स्तर पर चीनी पर सब्सिडी दे रही है। दिवाली पर अतिरिक्त चीनी नहीं दी जाएगी, लेकिन उपक्ताओं को डिपुओं में बाजार से सस्ते रेट पर चीनी पहले की तरह ही मिलती रहेगी। -तरुण कपूर, अतिरिक्त मुख्य सचिव खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams