tax gives rural roads

कुछ निजी बस चालक लगा रहे सरकार को चूना

जनता की बढ़ा रहे मुश्किलें

हिमाचल दस्तक। पटड़ीघाट
कलखर-पटड़ीघाट-भांबला ग्रामीण सड़क होने के चलते इस रूट पर चलने वाली बसों को टैक्स पर छूट है। इसी का फायदा कुछ निजी बस मालिक ले लेते हैं और बस का रूट वाया पटड़ीघाट ले लेते हैं। फिर बसों को जाहु कलखर सुपर हाईवे पर दौड़ाते हैं। ऐसा ही वाक्या आज कल वाया पटड़ीघाट सड़क पर चलने वाली रांगड़ा बस सर्विस जोकि संधोल-नेरचौक-मंडी रूट पर सुबह 8.30 बजे पटड़ीघाट से मंडी की तरफ रवाना होती है, के बारे में है। यह बस सुबह वाया पटड़ीघाट से होकर चलती है परंतु दोपहर बाद 1.15 पर मंडी से संधोल वापसी के समय यह बस वाया पटड़ीघाट न चलने के बजाय सुपर हाईवे से होते हुए चली जाती है।

अगर चालक और परिचालक से इस बारे में कोई बात की जाती है तो कहते हैं कि बस का रूट वाया सुपर हाईवे हो गया है। जनता को समझ नहीं आता कि सुबह बस का रूट वाया पटड़ीघाट और शाम को वापसी पर वाया सुपर हाईवे कैसे हो गया। इस प्रकार निजी बस ऑपरेटर अपनी मनमानी करने से जहां लोगों को परेशानी में डाल रहे हैं वहीं दूसरी ओर प्रदेश सरकार के खजाने को भी लूट रहे हैं। उधर स्थानीय लोगों में हरिकृष्ण, मोक्ष शर्मा, यसवंत, पुष्प राज, दीपक शर्मा, मनोज कुमार, कर्मचंद, रणजीत सिंह, योगराज, हेमसिंह, लालमन सहित अन्य लोगों ने प्रशासन से गुहार लगाई है कि बस को निर्धारित रूट पर ही चलाया जाए।

इस मामले की पूरी छानबीन करने के बाद उचित कदम उठाएंगे। बस ऑपरेटर को निर्धारित रूट पर चलने के लिए कहा जाएगा। रूट से बाहर कोई गाड़ी नहीं चलेगी। -नरेंद्र शर्मा, क्षेत्रीय प्रबंधक परिवहन निगम सरकाघाट

यह भी पढ़ें – कोठुवां नेरी वाया चतरोन सड़क का निर्माण कार्य शुरू

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams