News Flash
control over dengue

दोनों टीमों ने किया डेंगू प्रभावित वार्डों का दौरा

दिशा-निर्देश न मानने वालों के विरुद्ध होगी कार्रवाई : उपायुक्त

हिमाचल दस्तक। बिलासपुर
शहर के डियारा सेक्टर व मेन मार्केट वार्ड मेें फैले डेंगू पर नियंत्रण पाने के लिए सोमवार को दिल्ली और पुड्डुचेरी से विशेषज्ञ चिकित्सकों की दो टीमें पहुंच गई हैं। इन टीमों ने यहां पर पहुंचने के बाद डियारा, मेन मार्केट और धौलरा सहित विभिन्न वार्डों में फैले डेंगू रोग की वस्तुत स्थिति जानने के लिए निरीक्षण किया। उसके बाद उन्होंंने उपायुक्त एवं अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की। यह जानकारी उपायुक्त विवेक भाटिया ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों तथा फील्ड में कार्यरत कर्मचारियों तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए दी।

उन्होंने बताया कि 5 विशेषज्ञ चिकित्सकों का दल दिल्ली तथा 5 विशेषज्ञ चिकित्सकों का दल पुड्डुचेरी से बिलासपुर पहुंचा है, जो स्थानीय स्वास्थ्य विभाग व नगर परिषद के साथ संयुक्त रूप से मिलकर जिला में फैल रहे डेंगू के नियत्रंण के लिए विभिन्न स्तरों पर कार्य करेगा। उन्होंने कहा कि यह दोनों दल डेंगू की जिला में उत्तपति और इसके फैलने के कारण व इसके बचाव व निदान के लिए लोगों को विस्तृत रूप से जागरूक करेगा, ताकि शीघ्रता से इस पर काबू पाया जा सके।

हर गली से एक-एक डेगू कंट्रोल पर्सन को यह दायित्व सौंपा जाएगा

उन्होंने कहा कि डेगू के नियंत्रण व संभावित मामलों पर तत्परता से कार्य करने के लिए सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ताओं की भी सेवाएं ली जाएंगी। इसके लिए हर गली से एक-एक डेगू कंट्रोल पर्सन को यह दायित्व सौंपा जाएगा, ताकि वह स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग को अपने आस-पास की स्वच्छता से संबंधित गतिविधियों व डेंगू के रोग के बारे में त्वरित सूचना उपलब्ध करवा सकें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, पर्यवेक्षकों व अन्य कर्मचारियों से आह्वान किया कि वे पूर्ण तत्परता व कर्तव्य निष्ठा से डेंगू की रोकथाम के लिए अपना योगदान दें, ताकि कोई भी अप्रिय घटना न हो।

इस मौके पर सीएमओ डॉ. वीके चौधरी ने बताया कि अब तक जिले में 120 मामले डेगू के सामने आए है। इनमें से 72 मामले डियारा से तथा 25 मामले मेन मार्केट से संबंधित है। 76 मामलों में रोगियों को उपचार देने के उपरांत स्वस्थ होने पर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। उन्होंने बताया कि 15 लोग अभी तक अस्पताल में उपचाराधीन हैं। उन्होंने डेंगू रोग से बचने के लिए लोगों को सचेत करते हुए कहा कि वे घरों के भीतर व बाहर स्प्रे करवाने में मनाही न करें तथा अपने आस-पास गंदगी न फैलाएं व पानी को जमा न होने दें।

उन्होंने कहा कि इन दिशा निर्देशों की अवेहलना करने वाले लोगों के विरुद्ध जुर्माने की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि वे लोगों के घरद्वार जाकर डेंगू के फैलने व उससे बचाव की जानकारी देकर जागरूक करें। बैठक में प्रोवेशनर आईएएस अधिकारी सौम्या झा, एडीएम विनय कुमार, एसडीएम प्रियंका वर्मा, एसडीएम शशि पाल शर्मा, एसी टूडीसी सिद्धार्थ आचार्य, जिला परियोजना अधिकारी संजीत सिंह, डीआरओ देवी राम के अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

डियारा सेक्टर में टीम ने की जांच

बिलासपुर। सोमवार को डेगू की वस्तुत: स्थिति जानने और उसके नियंत्रण व बचाव के लिए दिल्ली व पुड्डुचेरी से आए डॉक्टरों के विशेषज्ञ दल ने डेंगू प्रभावित क्षेत्रों को दौरा करके निरीक्षण व स्थानीय लोगों से मिलकर स्थिति का जायजा लिया। उपायुक्त ने बताया कि दिल्ली से आए डॉ. अक्षय, डॉ. रीना, पीसी पाठक, होडिला सिंह तथा पुड्डुचेरी से डॉ. निवासन, डॉ. नटराजन, बालकृष्णन व कृष्णराज ने डियारा, मेन मार्केट व धौलरा का दौरा करके लोगों के घरों में कुलरों, गमलों, ड्रम, टंकियों व नालियों इत्यादि की गहनता से जांच की। लोगों को रोग से बचाव करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। यह दल आगामी दिनों तक बिलासपुर के विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण करेगा।

यह भी पढ़ें – जेबीटी भर्ती प्रक्रिया फिर सवालों के घेरे में

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams