News Flash
driver bus stop

चांजू मंदिर में जातर के लिए जा रहे थे श्रद्धालु

हिमाचल दस्तक। तीसा
सैकड़ों लोगों की आस्था का प्रतीक चांजू माता मंदिर के श्रद्धालुओं की आस्था को रविवार को गहरा धक्का लगा है, क्योंकि यहां पर एक चालक ने कई श्रद्धालुओं को बीच रास्ते में उतार दिया और बस खड़ी करके घर चला गया। मालूम हो कि चुराह घाटी के चांजू मंदिर में आज बैसाखी के दिन जातर मेला होता है। यहां पूरे हिमाचल से श्रद्धालु मां के दर्शनों हेतु आते हैं। रविवार को चंबा से चांजू तक एक बस

आती है, लेकिन चांजू का मार्ग बंद होने के कारण बस महज बघेईगढ़ तक ही आती है।

आज बस को चालक ने नकरोड़ में ही खड़ा कर दिया। हालांकि बस मंदिर जाने वाले श्रद्धालुओं से भरी हुई थी। लोगों ने आग्रह किया कि वो माता के दर्शनों के लिए जा रहे हैं, लेकिन चालक ने उनकी एक न सुनी। बस को नकरोड़ खड़ी करके घर चला गया। बस में सवार यात्री रमेश कुमार, हरीश और मीनाक्षी कहते हैं कि बार-बार चालक को उन्हें उनके गंतव्य तक छोडऩे का आग्रह किया गया, लेकिन चालक ने उन्हें मात्र यही कहा कि आप लोग टैक्सी से चले जाएं।

लोग कहते हैं कि एक तरफ सरकार और प्रशासन पर्यटन को बढ़ावा देने की बात करता है और दूसरी तरफ जहां इस यात्रा हेतु अलग बस लगानी चाहिए थी, लेकिन दुख की बात है कि यहां के लिए अलग बस चलाने की बात तो दूर जो पहले से ही लगी थी उसे भी चालक की दादागिरी ने बीच रास्ते में खड़ा कर दिया। उधर, आरएम सुभाष ने कहा कि इस मामले में जांच कर कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams