News Flash
The minister asked, did not you vote to show the finger?

शिमला पहुंचते ही आईपीएच बागवानी की समीक्षा की महेंद्र सिंह ने, सुरेश भारद्वाज और रामलाल मार्कंडेय के साथ चुनाव पर लंबी चर्चा की

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला : लोकसभा चुनाव की भागदौड़ खत्म कर जयराम सरकार के कई मंत्री बुधवार को शिमला पहुंच गए। सचिवालय पहुंचते ही आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ने अपने विभागों यानी आईपीएच और बागवानी के अफसरों के साथ समीक्षा बैठक की और पिछले तीन महीने की रिपोर्ट ली। आईपीएच के साथ अगले 3 महीने की कार्ययोजना पर बात हुई। लेकिन सबसे पहले जब बागवानी निदेशालय के अफसर बैठक के लिए आए तो सबसे पहले मंत्री ने सभी से अंगुली दिखाने को कहा, ताकि ये पता कर सकें कि किसने वोट डाला किसने नहीं?

मंत्री ने कहा कि जो कर्मचारी वोट की जिम्मेदारी नहीं समझता, वह सरकारी काम की जिम्मेदारी समझेगा, इस पर संदेह होता है। बागवानी विभाग की इस बैठक में आगामी सेब सीजन के संभावित उत्पादन, तैयारियों और अन्य इंतजामों पर बात हुई। मंत्री ने विभाग को सेब ढुलाई इंतजामों पर फोकस करने को कहा, क्योंकि इस बार कुछ क्षेत्रों में अच्छी फसल है। महेंद्र सिंह के ही कमरे में दो अन्य मंत्रियोंं शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज और कृषि मंत्री डॉ. रामलाल मार्कंडेय के साथ लंबी चुनावी चर्चा हुई।

शिमला शहर के पानी पर ली रिपोर्ट

आईपीएच मंत्री ने बैठक में ईएनसी नवीन पुरी से सबसे पहले शिमला शहर में पानी की स्थिति और आगामी गर्मियों की संभावना पर रिपोर्ट ली। ईएनसी ने बताया कि विभाग ने नौटी खड्ड पेयजल योजना का ट्रायल पूरा कर दिया है और 5 एमएलडी रॉ वाटर मिल रहा है। अभी नगर निगम को पानी की जरूरत नहीं है, लेकिन यदि जलसंकट बढ़ा तो 10 एमएलडी अतिरिक्त पानी उपलब्ध है। इसलिए इस बार संकट नहीं होगा। उन्होंने सभी चीफ इंजीनियरों के साथ बाह्या वित्त पोषित परियोजनाओं की प्रोगे्रस रिपोर्ट भी ली।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]