Three forest catchers caught by forest officers in Kottar forest

जंगल में खैर के पेड़ काट रहे थे आरोपी ,  पुलिस ने किया मामला दर्ज

हिमाचल दस्तक। शाहतलाई : हिमाचल प्रदेश के चंदन कहलाने वाले खैरों पर वन काटुओं अपना कहर भरपाना शुरू कर दिया है ।जिसके चलते वन काटुओं ने कोटधार के जंगल से दिन दहाडे बेखौफ होकर अमीर बनने के चक्कर में इस तरह की घटनाओ को अंजाम दे रहे हैं। वहीं वन विभाग के अधिकारियों मुस्तैदी के चलते ही वन काटुओं को इस घटना से को अंजाम देने से पहले ही तीन वन काटुओं को पांच लौग सहित पकडने मे सफलता हासिल कर ली।

जानकारी के अनुसार पिछडा क्षेत्र कोटधार के वन परिक्षेत्र कलोल के अंतर्गत आने वाले जंगल मलरांव मे वनखंड अधिकारी मान सिंह व वीट रक्षक नरेंद्र सिंह शुक्रवार को शाम ढलते करीब पांच बजे गश्त कर रहे थे तो उन्हें जंगल मे कुछ अजीब सी आवाज सुनाई दी तो उन्होंने वंहा देखा कि तीन लोगों ने जंगल में अवैध रुप से एक बडे खैर के पौधे को उखाड़ कर पांच लौग करके दूसरे पौधे का कटान कर रहे थे । जब वह वन विभाग के अधिकारियों को देखकर घटनास्थल से अपने औजारों को छोड़ कर रफूचक्कर हो गए। लेकिन इन विभाग के कर्मचारियों की सूजबूझ से घटना स्थल से कुछ दुरी पर एक काटु को दबोच लिया जबकि दो अन्य फरार होने मे सफल रहे मगर वन कर्मचारियों ने अपने इस अभियान को जारी रखा और दो घटें बीत जाने के उपरांत उन्होंने झाडियों मे छुपे दुसरे वन काटू को पकड़ लिया जबकि तीसरा अंधेरे का फयदा उठाकर भागने में सफ ल हो गया।।

उसके पश्चात वन खंड अधिकारी मान सिंह ने इसकी सुचना पुलिस थाना तलाई को देकर वन काटुओं को उनकेण् हवाले कर दिया जबकि तीसरा वन काटू फरार था जिसे देर रात उसके घर से दबोच लिया जिन्हें पुलिस के हवाले कर दिया। उधर वन विभाग के वन मंडल अधिकारी सरोज भाई पटेल से इस बारे संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि वन परिक्षेत्र कलोल की कोटधार क्षेत्र के जंगल मलरांव मे वन खंड अधिकारी मान सिंह व वन रक्षक नरेंद्र सिंह ने गश्त के दौरान वन काटुओं को पांच लौग सहित पकडऩे मे सफलता हासिल की है। जिन्होंने एक पौधे के पांंच लौग कर दिए थे। जब दूसरे खैर के पौधे को उखाड़ रहे थे।

जिसकी शिकायत पुलिस मे दर्ज कर दी है। जब इस संदर्भ में पुलिस उपमंडलाधिकारी राजेंद्र जसवाल से संपर्क किया तो उन्हें कहा पुलिस ने जंगल मे अवैध रूप से कटान करने वाले तीन लोगों को गिरफ्तार किया है जिनकी पहचान मनजीत सिंह पुत्र गोरखू राम निवासी मलरांव, सुखदेव सिंह पुत्र ठैणू राम निवासी मलरांव व सोहन सिंह पुत्र श्रबण सिंह ढोलक चकनाड के रुप मे पहचान हुई है।

कमल शर्मा

———————————————–

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams