sukhu

बस चालकों और कंडक्टरों का पुलिस सत्यापन भी होना चाहिए

हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने स्कूली बच्चों की सेफ्टी के साथ ही सिक्योरिटी सुनिश्चित करने का भी जयराम ठाकुर सरकार को सुझाव दिया है। सुक्खू ने कहा कि दिल दहला देने वाले नूरपुर स्कूल बस हादसे से सबक सीखने की जरूरत है। यहां जारी एक प्रेस बयान में सुक्खू ने कहा कि सरकार ने बच्चों की सेफ्टी के नियम बनाने को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में कमेटी गठित कर अहम निर्णय लिया है।

कमेटी सेफ्टी के लिए गाइडलाइंस तैयार करने के साथ-साथ बच्चों की सुरक्षा को लेकर भी कड़ी नीति तैयार करें। प्रदेश में निजी स्कूल बड़ी संख्या में हैं, लेकिन सभी बच्चों की सेफ्टी और सिक्योरिटी के मानकों को पूरा नहीं करते। सुक्खू ने कहा कि बसों में ड्राइवर के साथ कंडक्टर और केयरटेकर का होना जरूरी है। सभी बस चालकों और कंडक्टरों का पुलिस सत्यापन भी होना चाहिए।

ज्यादा बच्चों वाले स्कूलों को अपने यहां सुरक्षा गार्ड तैनात करने के निर्देश सरकार दें। सुक्खू ने कहा कि सभी स्कूल बसों की फिटनेस जांच भी होनी चाहिए। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने सरकार से मांग की है कि सरकार की नई नीति का उल्लंघन करने वाले स्कूलों पर कड़ी कार्रवाई हो।

वाजपेयी ने उतारा लोगों की पीठ का बोझ

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams