tomatoes

सुंदरनगर के जै देवी निवासी मेगनेट इंजीनियर अरुष ने तैयार की पौध

  • विदेशों में बिकता है पांच से छह सौ रुपये किलो तक
  • क्षेत्र के किसानों के लिए तैयार कर रहे नई पनीरी

नितिन कुमार । सुंदरनगर
सुंदरनगर के जै देवी गांव के एक मेगनेट इंजीनियर अरुष अग्रवाल ने टमाटर की एक पौध तैयार की है जो पूरी तरह से आग्रेनिक है। उन्होंने टमाटर के पौधे को बंजर भूमि में लगाया है। वहीं उन्होंने इसमें कोई भी कैमिकल स्प्रे और रसायनिक खाद नहीं डाली है। महज गोबर डालकर ही यह टमाटर उगाया गया है। हालांकि अरुष को भरोसा कम ही था, मगर जब परिणाम सामने आए तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा।1

इस टमाटर को उन्होंने बिना किसी कोल्ड स्टोर के सामान्य स्टोर में रखा। दस दिन के बाद भी यह टमाटर वैसा का वैसा ही रहा। उन्होंने अब इस टमाटर की खेती को बढ़ावा देने के लिए इसकी पनीरी तैयार करना शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि इस टमाटर को घासनियों, बेस्ट लैंड, कीचन गार्डन में लगाकर अपनी जरूरत के लिए उगा सकते हैं।

किसानों की आर्थिकी होगी मजबूत

इस टमाटर की मार्केट विदेशों में काफी अच्छी है। टमाटर की प्रति किलो कीमत पांच से छह सौ रुपये है। उन्होंंने कहा कि अगर किसान प्रयास करे तो सेब के बाद यह टमाटर उनके लिए अच्छी नकदी फसल बन सकती है। इस पर खर्चा कुछ नहीं है सिर्फ महनत है। उन्होंने कहा कि इस टमाटर की कीमत छोटे किसानों को भी अच्छी कमाई दे सकती है।

उन्होंने इसे और भी बढ़ावा देने के लिए स्थानीय किसानों की मदद करना शुरू कर दी है वहीं कुछ लोग टमाटर की फसल पर ऐतराज कर रहे है कि ये बिना स्प्रे नहीं हो सकता, जबकि उनका चैलेंज है कि वह अपने इस टमाटर की टेस्टिंग कहीं भी करवाने के लिए तैयार है।

यह भी पढ़ें – ज्वालाजी मंदिर के रास्ते से अतिक्रमण हटाएं एसडीएम

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams