Traffic police negligence

Traffic police negligence मात्र दोपहिया वाहनों के चालानों पर फोकस

हिमाचल दस्तक,हमीरपुर।।शहर में Traffic police negligence से कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है। हमीरपुर शहर और आसपास के इलाकों में ट्रैफिक पुलिस मात्र दोपहिया वाहनों के चालानों पर ही फोकस रखती है। ऐसा इसलिए नजर रहा है क्योंकि शहर में ओवरलोड को लेकर वाहनों पर ना तो कोई शिकंजा कसा जा रहा है और ना ही इनकी कोई प्रॉपर चेकिंग हो रही है।

  • अपने साइज से बड़ा सामान नियमों को ताक पर रखकर ढो रहे
  • इस व्यवस्था को रोकने के लिए ट्रैफिक पुलिस कुछ नहीं कर रही

छोटे-छोटे वाहन भी अपने साइज से बड़ा सामान नियमों को ताक पर रखकर ढो रहे हैं। रोजाना ऐसे छोटे वाहन देखे जा सकते हैं जो लंबे-लंबे लोहे के सरिए, पाइपों को ढो रहे हैं। इस व्यवस्था को रोकने के लिए ट्रैफिक पुलिस कुछ नहीं कर रही है। इससे इन वाहनों के शहर में से गुजरने पर जाम की स्थिति बन जाती है।

कोई प्रॉपर चेकिंग नहीं

इस भारी भरकम लोहे की सामग्री को जिन छोटे वाहनों में ढोया जा रहा है क्या वह इस सामान को ले जाने के लिए अधिकृत हैं या नहीं, इसकी कोई प्रॉपर चेकिंग नहीं हो रही है। इसमें नियमों के उल्लंघन करने पर दो हजार तक का जुर्माना किया जा सकता है। कुछ समय पहले भी भोटा चौक के पास ऐसा ही एक थ्री व्हीलर नुमा वाहन लोहे के एंगल आयरन ले जाते हुए एक बस से टकरा कर पलट गया था।

ट्रैफिक पुलिस को यह सब नहीं आ रहा नज़र

जितने साइज की लंबाई का वाहन है उससे भी कई फीट बाहर लोहे का यह सामान लटका हुआ होता है। लेकिन लगता यही है कि ट्रैफिक पुलिस को यह सब रोजाना नजर नहीं आता है। यही वजह है कि ऐसे वाहनों पर शिकंजा कसने को लेकर कुछ नहीं हो रहा है। चौक पर मुड़ते समय ये वाहन और खतरनाक हो जाते हैं।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams