News Flash
Transport Corporation's driver blocked the Kangra bus stand

कई बसों के रूट हुए फेल आम जनमानस को हुई भारी परेशानी

अजय सहगल कांगड़ा : बसअड्डा फीस को लेकर हिमाचल परिवहन निगम कर्मियों ने, फीस वसूलने वाली कम्पनी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। निगम का आरोप है कि पर्ची पहले 77 रुपए काटी जाती थी। निगम मुख्य कार्यालय ने 14 मई को इस बारे में आदेश पारित किए थे कि अड्डा फीस 77 की बजाए 67 रुपए दी जाएगी। रात्रि ठहराव का शुल्क 93 रुपए वसूल किया जाएगा।

निगम का आरोप है कि बस अड्डा कांगड़ा में अड्डा फीस वसूलने वाली कम्पनी अब भी 77 रुपए की पर्ची ही काट रही है। इसी के चलते मंगलवार सुबह करीब 10 बजे निगम की बस से जब 77 रुपए मांगे गए तो बस चालक व परिचालक ने 67 रुपए देने की बात की। जबकि कम्पनी के कर्मचारी 77 रुपये लेने पर अड़ गए। कम्पनी कर्मियों ने बेरियर बन्द कर दिया। इसके बाद बस चालक भी बस वहीं खड़ी करके चला गया। इससे बस अड्डे से बसों का बाहर निकलना बंद हो गया।
इस कारण अड्डे में बसें फंस गईं और सड़क पर जाम की स्थिति बन गयी। इससे कई बसों के रूट भी प्रभावित हुए।  मामले की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और निगम के क्षेत्रीय प्रबंधक पंकज चड्ढा भी पहुंच गए। इस बारे में पंकज चड्ढा का कहना है कि अड्डा फीस के बारे में जो आदेश मुख्यालय से आये हैं उसकी जानकारी लिखित रूप में अड्डा फीस वसूलने वाली कम्पनी को दे दी गयी थी जिसकी रिसिविंग भी ली गयी है। कम्पनी को हमने अपना पक्ष मुख्यालय में भी रखने को कहा है और यदि कम्पनी का पक्ष सही होता है तो निगम सभी बसों की कम दी गयी 10 रुपए फीस की भी भरपाई कर देंगे। इसके बावजूद भी कंपनी 77 रुपए ही चार्ज कर रही है।
मौके पर पहुंचे एसडीएम कांगड़ा जतिन लाल का कहना है कि उन्होंने फिलहाल पुलिस को यातायात सुचारू रखने के निर्देश दिए हैं। निगम मुख्यालय के आदेश भी उन्होंने देख लिए हैं और अड्डा फीस वसूलने वाली कंपनी के प्रतिनिधियों को भी अपना पक्ष रखने के लिए उन्होंने कार्यालय में बुलाया है।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams