Kidnapping

60 घंटे की जांच के बाद भी हत्यारों तक नहीं पहुंची पुलिस

पुलिस का दावा पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद पकड़े जाएंगे हत्यारे

चंद्रमोहन चौहान। ऊना

रक्कड़ कॉलोनी में नवजात शिशु हरमनजीत सिंह के अपहण के बाद हत्या मामले में पुलिस हत्यारे तक नहीं पहुंच पाई है। 60 घंटे का समय बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। पुलिस  मामले में सतर्कता बरत रही है और सभी कडिय़ों को जोड़कर काम कर रही है। फिलवक्त पुलिस शव के पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। पुलिस का दावा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के तुंरत बाद मौत के कारणों का खुलासा हो पाएगा और हत्यारे को पकड़ लिया जाएगा।

बता दें कि बुधवार को पुलिस को सूचना मिली कि रक्कड़ कॉलोनी निवासी राजेंद्र कौर का 37 दिन का बेटे हरमजीत सिंह को दो नाकाबपोश युवक लेकर फरार हो गए। पुलिस के काफी तलाश के बाद भी बेटे का कोई पता नहीं चला। अगली सुबह वीरवार को बसोली गांव के सुखदेव को घर से करीब 70 मीटर की दूरी पर बच्चे का शव खड्ड में मिला।

जांच के लिए  फोरेंसिक टीम को भी बुलाया गया

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए टांडा अस्पताल भेज दिया। वहीं जांच के लिए फोरेंसिक टीम को भी बुलाया। फोरेंसिक टीम वीरवार दोपहर रक्कड़ कॉलोनी पहुंची, जहां उन्होंने खड्ड से साक्ष्य जुटाए और परिजनों पूरा मामला जाना। बेटे को अगवा किसने किया और किसने हत्या की, इसको लेकर पुलिस जांच कर रही है, लेकिन दो दिन से अधिक का समय बीत जाने के बाद भी हत्यारों का कोई पता नहीं चल पाया है।

बेरहाल पुलिस अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। लेकिन परिजनों द्वारा बताई गई कहानी पूरी तरह से पुलिस के गले नहीं उतरी है। इस मामले के खुलासे की पूरी धूरी हरमनजीत सिंह की माता के बयानों केे खुलासे पर टिकी है। ASP मदन लाल कौशल का कहना है कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत के कारणों का खुलासा हो पाएगा कि शिशु की मौत कब और कैसे हुई। उन्होंने कहा कि जल्द ही हत्यारों को भी काबू कर लिया जाएगा।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams