public discussion

काजा में लगाई चौपाल, आमने-सामने किए सवाल-जवाब

  • कहा, ईमानदार और साफ छवि वाले को वोट देगी जनता
  • रवि ठाकुर, रघुवीर ठाकुर और रामलाल मार्कंडेय ने बनाए रखी कार्यक्रम से दूरी

मोहन लाल रेलिंग्पा। केलांग
टिकट की दावेदारियों के बीच जनजातीय जिला लाहौल स्पीति के मतदाताओं ने अनूठी मुहिम शुरू की है। सिविल सोसायटी के बैनर तले यहां के लोग दावेदारों को परख रहे हैं। सभी दावेदारों को आमने-सामने बिठाकर उनसे सवाल-जवाब हो रहे हैं, ताकि उनके विचारों के आधार पर यह तय किया जा सके कि कौन श्रेष्ठ प्रत्याशी रहेगा। इसके तहत मंगलवार को काजा में चौपाल लगाई गई।

इस दौरान लोगों ने कहा कि जनता केवल उसी उम्मीदवार को वोट देगी जो ईमानदार, बेदाग और स्वच्छ छवि रखता है तथा भ्रष्टाचार में संलिप्त न हो। स्पीति सिविल सोसायटी द्वारा आयोजित चौपाल कार्यक्रम में भ्रष्टाचार, विकास कार्य में अनदेखी, खस्ताहाल सड़कें, बिजली की समस्या का मुद्दा हावी रहा। इस कार्यक्रम में भाजपा से टिकट के दावेदार डॉ. चंद्र मोहन परशीरा, ही राम गौड़, रिगजिन हायरप्पा तथा जवाहर शर्मा, कांग्रेस से सुरेश कारदो तथा निर्दलीय उम्मीदवार सुदर्शन जस्पा वाद-विवाद तथा सवाल जवाब कार्यक्रम में उपस्थित हुए।

जनता के तीखे सवालों का भी जवाब दिया

सभी नेताओं ने गत पांच वर्षों की उपलब्धियों को जनता के सामने रखा तथा जनता के तीखे सवालों का भी जवाब दिया। लेकिन रवि ठाकुर, रघुवीर ठाकुर तथा रामलाल मार्कंडेय की अनुपस्थिति ने सभी को चौंका दिया। डॉ. चंद्र मोहन परशीरा ने कहा कि गत पांच वर्षों के दौरान उन्होंने लाहौल स्पीति के निवासियों को एनजीटी से परमिट दिलाने, लाहौल स्पीति में हैली एंबुलेंस चलाने बारे डीजीसीए से स्वीकृति दिलाने सहित अनगिनत कार्य किए हैं। रिगजिन हायरप्पा ने कहा कि वन अधिकारों के प्रति उन्होंने जनता में जागरुकता फैलाई, जिस्पा बांध का निर्माण रोक कर पर्यावरण को बर्बादी से बचाया। हीराम गौड़ ने पूर्व विधायक रामलाल मार्कंडेय पर अधिक संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगाया तथा सीबीआई से जांच कराने की मांग की।

सुदर्शन जस्पा ने लोगों से आग्रह किया कि वे किसी भी पार्टी की विचारधारा से न जुड़ते हुए केवल योग्य उम्मीदवार को चुनें। जवाहर शर्मा ने कहा कि उन्होंने 16 वर्षों से पार्टी की सेवा की है तथा अगर उन्हें टिकट मिला तो शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर काम करना चाहते हैं।
कांग्रेस के इकलौते टिकट के दावेदार सुरेश कारदो ने कहा कि उन्होंने अपने विद्यार्थी जीवन में सैकड़ों बच्चों को कॉलेज और यूनिवर्सिटी में दाखिला करवाने में सहायता की तथा उन्होंने हाईकमान से आग्रह किया है कि टिकट का फैसला शिमला और दिल्ली में न होकर सीधे जनता करे। वहीं सोसायटी के अध्यक्ष टकपा तेंजिन ने कहा कि इस तरह के चौपाल से लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams