wine shops

बिना लाइसेंस शराब रखने पर भी होगी कार्रवाई

  • निर्धारित मात्रा से शराब ले जाने या घर पर रखने पर  होगी जब्त
  • आबकारी एवं कराधान विभाग के सहायक आयुक्त रविंद्र कुमार बोले, शराब पर रहेगा प्रतिबंध

हिमाचल दस्तक। बिलासपुर

विधानसभा चुनावों के दृृष्गित भारत निर्वाचन आयोग के दिशानिर्देशानुसार सात नवंबर सायं पांच बचे से नौ नवंबर सायं पांच बजे तक जिला के समस्त शराब के ठेके, शराब की दुकानें, बार व होल सेल डिपो बंद रहेंगे। किसी भी प्रकार की शराब बेचने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। सहायक आबकारी एवं कराधान आयुक्त रविंद्र कुमार ने कहा कि इन 48 घंटों के दौरान शराब या उससे मिलता जुलता कोई भी नशा न ही बेचा जा सकता है और न ही परोसा या वितरित किया जा सकता है, चाहे वो सार्वजनिक हो या व्यक्तिगत। सभी पर पाबंदी लगा दी गई है।

उन्होंने कहा कि एक्साईज एक्ट के अनुसार धारा 46 के अनुसार किसी भी एक्साईज लाइसेंसधारी, ढाबा,  दुकान रेस्टोरेंट में शराब बेचना व परोसना व पीना अपराध है। इसके अतिरिक्त अगर कोई भी व्यक्ति अपने कमर्शियल कांप्लैक्स में बिना लाइसेंस के शराब रखता है बेचता या पीने की अनुमति देता है तो उसके विरुद्ध एक्साइज एक्ट की धारा 39 के अंतर्गत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी या उल्लंघनकर्ता को गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

अधिक शराब ले जाने या घर में रखने पर धारा 18 के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी

उन्होंने बताया कि किसी भी व्यक्ति द्वारा निर्धारित मात्रा से अधिक शराब ले जाने या घर में रखने पर धारा 18 के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि धारा 61 के अनुसार किसी भी वाहन को चैकिंग के लिए रोका जा सकता है और तलाशी के दौरान वाहन में निर्धारित मात्रा से अधिक शराब मिलने पर धारा 61 के अंतर्गत वाहन को जब्त भी किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि धारा 10 के अधीन प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए किसी भी एक्साइज इंस्पेक्टर व एक्साइज अधिकारी के पास यह अधिकार है कि एक्साइज एक्ट के अधीन दंडनीय किसी अपराध को किसी व्यक्ति के द्वारा किया जा रहा है और अपराधी को अवसर दिए बिना तलाशी वारंट दिन या रात घर में या किसी भी आवासीय परिसर में या छापे के समय बाधा डालने का प्रयास करेगा तो उसके विरुद्ध भी भारतीय दंड विधान प्रक्रिया के अनुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams