Women Helpline Service

हिमाचल प्रदेश में महिला सुरक्षा को लेकर यह एक नई पहल

शिमला/सोलन- हिमाचल में महिलाओं की सुरक्षा को देखते हुए प्रशाशन ने महिलाओं के लिए सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर जारी किया है अब हिमाचल में महिलाओं को किसी भी विपरीत स्थिति में 181 नंबर डायल करने पर तुरंत सहायता मिल सकेगी। यह सुविधा जल्द ही शुरू होने वाली है। इसके लिए संबंधित संस्था के साथ महिला एवं शिशु कल्याण विभाग ने M.O.U. साइन कर लिया है और इस सेवा को शीघ्र ही प्रदेश की जनता को समॢपत किया जाएगा। हिमाचल प्रदेश में महिला सुरक्षा को लेकर यह एक नई पहल है जिसका कार्य जी.वी.के ई.एम.आर.आई. को सौंपा गया है।

जिला सोलन से संचालित की जाएगी हैल्पलाई सेवा

181 Women Help Line सेवा जिला सोलन से संचालित की जाएगी और इससे जुड़े वन स्टॉप सैंटर को सोलन शहर में स्थापित किया जाएगा। इस सेवा के प्रदेश में आरंभ होने से कोई भी महिला जिसे सहायता की आवश्यकता होगी उसे तुरंत सहायता उपलब्ध होगी। यह सेवा महिला सशक्तिकरण व महिला सुरक्षा के नए आयाम कायम करेगी। 181 Women Help Line पर प्रदेश भर से किसी भी परेशानी या संकट में फंसी महिला कभी भी 24 घंटे 365 दिन संपर्क कर अपनी समस्या का समाधान तथा संबंधित परेशानी से जुड़ी कोई भी जानकारी हासिल कर सकेगी। इस हैल्पलाइन के माध्यम से महिलाएं सरकार द्वारा चलाई जा रही महिला कल्याण के कार्यक्रमों एवं योजनाओं के बारे में भी जानकारी ले सकेंगी।

वन स्टॉप सैंटर से जुड़ी होगी हैल्पलाइन

181 Women Help Line एक वन स्टॉप सैंटर से भी जुड़ी होगी जो एक ऐसा आशियाना होगा जहां महिलाओं को घर जैसे वातावरण के साथ-साथ अपनी समस्याओं व शिकायतों को पंजीकृत करके संबंधित विभाग तक अपनी बात पहुंचाने की सुविधा मिलेगी। वन स्टॉप सैंटर पर पीड़ित महिला व उसके बच्चों (हर उम्र की लड़की तथा 8 साल तक के लड़के) को उसके साथ अस्थायी रूप से अधिकतम 5 दिनों तक आश्रय दिया जाएगा।

जानिए ऐसे कार्य करेगी वूमैन हैल्पलाइन

जब भी कोई महिला या उसकी तरफ से कोई Women Help Line से संपर्क करेगा उसकी जानकारी एमरजैंसी रिस्पांस सैंटर पर नियुक्त रिस्पांडर प्राप्त करेगी। कॉलर या महिला द्वारा उपलब्ध करवाई गई जानकारी के आधार पर उसकी आवश्यकतानुसार रिस्पांडर संबंधित विभाग जैसे चिकित्सा, पुलिस, वन स्टॉप सैंटर, काऊंसिङ्क्षलग, आश्रय तथा कानूनी सलाह इत्यादि मुहैया करवाएगी। यदि महिला को आपातकालीन स्थिति से बचाने की आवश्यकता होगी या उसे तुरंत चिकित्सा सहायता की आवश्यकता होगी तो नजदीकी पुलिस स्टेशन से मदद या 108 को सूचित किया जाएगा।

मिलेगी 24 घंटे नि:शुल्क टोल फ्री नंबर सेवा

उन महिलाओं को जिन्हें सहायता व जानकारी की आवश्यकता होगी उन्हें 24 घंटे नि:शुल्क टोल फ्री नंबर 181 द्वारा सहायता उपलब्ध करवाना इस सेवा का मुख्य उद्देश्य है। इसी नंबर से महिला को हैल्पलाइन/केन्द्र द्वारा अस्पताल को रैफर करवाना। आवश्यकता होने पर एंबुलैंस उपलब्ध करवाना, एफ.आई.आर./एन.सी.आर. रिपोर्ट दर्ज करवाने की सुविधा, कानूनी, मानसिक तथा काउंसलिंग की सहायता, तथा संकटग्रस्त महिलाओं के साथ नियमित संपर्क में रहना और सामान्य स्थिति में आने के लिए आश्वस्त करने जैसी सुविधा मिल सकेगी।

रहेगी वीडियो कांफ्रैंसिंग की भी सुविधा

पुलिस एवं न्यायालय की कार्यवाही तेजी व बिना रूकावट के संपन्न हो इसके लिए वन स्टॉप सैंटर स्काइप व गूगल इत्यादि के माध्यम से वीडियो कांफ्रैसिंग की सुविधा उपलब्ध करवाएगा। इस सुविधा के माध्यम से पीड़ित महिला यदि चाहे तो अपना बयान वन स्टॉप सैंटर से ही पुलिस/न्यायालय में आडियो या वीडियो के रूप में दर्ज करवा सकती है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams