News Flash
3 Hindustani to reach space in 2021

गुड न्यूज : इसरो प्रमुख ने गगनयान मिशन को बताया टर्निंग प्वाइंट

बेंगलुरु : मोदी सरकार द्वारा हाल ही में गगनयान मिशन को मंजूरी मिलने के बाद इसरो ने अपने महत्वपूर्ण मिशन का औपचारिक तौर पर ऐलान कर दिया है। शुक्रवार को इसरो प्रमुख के सिवन ने एक प्रेस कांफेंस में गगनयान मिशन की तैयारियों के बारे में बताया। इसरो प्रमुख ने कहा कि फिलहाल हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता गगनयान मिशन है।

इसके लिए हमने दिसंबर 2020 की पहली डेडलाइन तय की है। वहीं दूसरी डेडलाइन जुलाई 2021 रहेगी। इसरो प्रमुख ने बताया कि पहले मानवीय अंतरिक्ष मिशन के लिए दिसंबर 2021 तक का समय तय किया गया है। उन्होंने बताया कि इस मिशन के लिए 3 सदस्यों वाला क्रू भेजा जाएगा, जो कम से कम 7 दिन अंतरिक्ष में रहेगा। इस मिशन के फाइनल लांच से पहले दो मानव रहित मिशन भी अंतरिक्ष में भेजे जाएंगे।

इसरो चीफ के सिवन ने बताया कि अंतरिक्ष पर मानव मिशन भेजने वाला भारत दुनिया का चौथा देश बन जाएगा। उनके मुताबिक, गगनयान मिशन के लिए तैयार होने वाले क्रू की शुरुआती ट्रेनिंग भारत में होगी, जबकि उन्हें एडवांस्ड ट्रेनिंग के लिए रूस भेजा जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस क्रू में महिला अंतरिक्ष यात्री भी शामिल होगी। सिवन ने बताया कि अंतरिक्ष में जाने वाले सभी क्रू मेंबर्स भारत से होंगे। वह भारतीय एयरफोर्स के जवान हो सकते हैं या फिर सिविलियन भी हो सकते हैं। जो भी चयन के पैमाने पर खरा उतरेंगे उन्हीं को गगनयान मिशन के लिए चुनाव जाएगा।

अप्रैल में चंद्रयान-2  के प्रक्षेपण की योजना

के सिवन ने बताया कि दूसरे चंद्र अभियान चंद्रयान-2 को इस साल मध्य अप्रैल में प्रक्षेपित किए जाने की योजना है। इसरो ने इससे पहले कहा था कि चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण इस साल जनवरी से 16 फरवरी के बीच किया जाएगा।

 

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams