News Flash
Opposition united against EVM

मतदान पर्चियों का मिलान कराने की मांग जाएंगे सुप्रीमकोर्ट, बैलेट पेपर से वोटिंग की वकालत , चुनाव आयोग पर उठाए सवाल

नई दिल्ली : पहले चरण की वोटिंग के बाद विपक्षी दलों ने ईवीएम का मुद्दा एक बार फिर से गरमा दिया है। कई बड़े विपक्षी दलों ने दिल्ली में हुई बैठक में ईवीएम पर सवाल उठाए हैं। दलों ने एक बार फिर से सुप्रीमकोर्ट जाने की बात कही है। बैठक में छह विपक्षी दलों ने शिरकत की। दलों ने ईवीएम पर सवाल उठाते हुए बैलेट पेपर से वोटिंग की वकालत की। उधर, बीजेपी ने विपक्ष की इस बैठक को हार स्वीकार करने वाला बताया है।

बैठक के बाद टीडीपी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू और कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि हम ईवीएम का मुद्दा लेकर फिर से सुप्रीमकोर्ट जाएंगे। नायडू शनिवार को भी ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत लेकर चुनाव आयोग पहुंचे थे। उनका आरोप था कि आंध्र प्रदेश में वीरवार को पहले चरण की वोटिंग के दौरान 4 हजार से ज्यादा ईवीएम में खराबी आई थी। उन्होंने कहा कि हम ईवीएम के मुद्दे पर फिर से सुप्रीमकोर्ट जाएंगे। उन्होंने कहा कि बहुत कम देश हैं जो ईवीएम का इस्तेमाल कर रहे हैं।

अगर हमें वोटर्स का विश्वास जीतना है तो बैलेट पेपर का इस्तेमाल करना होगा। चंद्रबाबू नायडू ने बताया कि 21 राजनीतिक दल 50 प्रतिशत मतदान पर्चियों का मिलान ईवीएम से कराए जाने की मांग कर रहे हैं। सिंघवी ने आरोप लगाया कि हमें नहीं लगता कि ईवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे के निपटारे के लिए चुनाव आयोग पर्याप्त कदम उठा रहा है। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को चुनाव आयोग को निर्देश दिया था कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में पांच मतदान केंद्र पर किसी भी मतदान पर्ची का ईवीएम का अधिक से अधिक मिलान किया जाए। उसने कहा था कि इससे न केवल राजनीतिक दलों बल्कि सभी मतदाताओं को भी काफी संतुष्टि मिलेगी।

भाजपा को हराने के लिए कुछ भी करेंगे: केजरीवाल

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए वह कुछ भी करेंगे। यह बात उन्होंने दिल्ली में कांग्रेस से गठबंधन के मुद्दे पर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कही। केजरीवाल ने कहा कि देश खतरे में है। नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी से देश को बचाने के लिए जो भी करने की जरूरत होगी उसे हम करने को तैयार हंै। संयुक्त विपक्ष के प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि सिर्फ एक पार्टी है जो वीवीपैट के खिलाफ नहीं है। क्योंकि ईवीएम से उस पार्टी को मदद मिल रही है।

दलों की बैठक हार का बहाना खोजने की कवायद: भाजपा

नई दिल्ली। भाजपा ने रविवार को दिल्ली में हुई विपक्षी दलों की बैठक को ैलोकसभा चुनाव में भारी हार का बहाने खोजने की कवायद करार दी। भाजपा के प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने दावा किया कि विपक्षी गठबंधन एक मिथ्या है, क्योंकि उनमें से ज्यादातर अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं। राव ने आरोप लगाया कि दिल्ली में बुलाई गई सर्वदलीय बैठक तथाकथित महागठबंधन द्वारा हार की स्वीकारोक्ति के अलावा और कुछ नहीं है। वे पहले से ही अपनी भारी हार का बहाना खोजने की कोशिश कर रहे हैं।

 

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams