News Flash
Scholarship to 5 million minority students: Naqvi

ड्रॉपआउट लड़कियों को करवाएगा जाएगा ब्रिज कोर्स

नई दिल्ली : मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल में अल्पसंख्यक छात्र-छात्राओं को शिक्षित कर आगे बढ़ाने की दिशा में बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मंगलवार को ऐलान किया कि अल्पसंख्यक समाज के सामाजिक-आर्थिक सशक्तिकरण के लिए अगले पांच वर्षों में पांच करोड़ विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति दी जाएगी और इनमें आधी संख्या में लड़कियां होंगी।

अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की अधीनस्थ संस्था मौलाना आजाद शिक्षा प्रतिष्ठान की 65वीं आमसभा की बैठक के बाद नकवी ने पत्रकारों से कहा कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली इंसाफ, ईमान और इकबाल की सरकार ने विकास की सेहत को सांप्रदायिकता एवं तुष्टीकरण की बीमारी से मुक्ति दिलाकर सेहतमंद, समावेशी सशक्तिकरण का माहौल तैयार किया है।

नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक वर्ग की स्कूल ड्रॉपआउट लड़कियों को देश के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थानों से ब्रिज कोर्स कराकर उन्हें शिक्षा और रोजगार से जोड़ा जाएगा। देशभर के मदरसों में मुख्यधारा की शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए मदरसा शिक्षकों को विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों से प्रशिक्षण दिलाया जाएगा ताकि वे मदरसों में मुख्यधारा की शिक्षा-हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, कंप्यूटर आदि दे सकें। यह काम अगले महीने से शुरू कर दिया जाएगा।

प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग

अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि इसके अलावा आर्थिक रूप से कमजोर अल्पसंख्यक- मुस्लिम, ईसाई, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी- युवाओं को केंद्र एवं राज्य की प्रशासनिक सेवाओं, बैंकिंग, कर्मचारी चयन आयोग, रेलवे एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु फ्री कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि राजस्थान के अलवर में विश्वस्तरीय अल्पसंख्यक शिक्षण संस्थान का निर्माण कार्य जल्द शुरू हो जाएगा।

 

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams