Submarine

Submarine :मुंबई : वाइस एडमिरल गिरीश लूथरा ने आज कहा कि स्कार्पीन श्रेणी की पहली पनडुब्बी कलवारी के इस साल नवंबर-दिसंबर में नौसेना में शामिल होने की उम्मीद है।

मझगांव डॉक लिमिटेड ने चार दिन पहले भारतीय नौसेना को स्कार्पीन श्रेणी की यह पनडुब्बी सौंपी थी। मझगांव डॉक लिमिटेड भारतीय नौसेना की प्रमुख पोत निर्माण इकाई है। वाइस एडमिरल लूथरा ने कहा, कलवारी पनडुब्बी पिछले कुछ दिनों से समुद्र में ही है। करीब 110 दिनों का समुद्री परीक्षण पूरा किया जा चुका है और नौसेना में औपचारिक रूप से शामिल किए जाने से पहले के कुछ और परीक्षण जारी हैं। हमें इस साल नवंबर-दिसंबर तक इसके नौसेना में शामिल हो जाने की उम्मीद है।

यह Submarine फ्रांसीसी नौसेना रक्षा और ऊर्जा कंपनी डीसीएनएस द्वारा डिजाइन की गई है जिसका निर्माण मझगांव डॉक लिमिटेड द्वारा भारतीय नौसेना के प्रोजेक्ट-75 के हिस्से के तौर पर किया जा रहा है। वाइस एडमिरल लूथरा यहां भारतीय नौसेना के पोत तारासा को नौसेना में शामिल किए जाने के मौके पर मीडियाकर्मियों से बात कर रहे थे। 400 टन के इस जहाज को पश्चिमी नौसेना कमान ने आज शामिल किया है।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams