News Flash
Conference

2011 वल्र्डकप के हीरो ने प्रेस कांफ्रेंस कर इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास

मुंबई। 2011 विश्व कप के हीरो और कैंसर पर विजय हासिल करने के आठ साल बाद भावुक युवराज सिंह ने सोमवार को उतार-चढ़ाव से भरे अपने करियर को अलविदा कह दिया। मुंबई के एक होटल में प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन करते हुए युवी ने इसकी घोषणा की।

मैंने 25 साल 22 गज की पिच के आसपास बिताने और लगभग 17 साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने के बाद आगे बढऩे का फैसला किया है। क्रिकेट ने मुझे सब कुछ दिया और यही वजह है कि मैं आज यहां पर हूं।

2011 वल्र्ड कप के रहे हीरो: 2011 के वल्र्ड कप में 9 मैच में 90.50 के औसत से 362 रन और 15 विकेट लिए थे। वे उस वल्र्डकप में प्लेयर ऑफ द सीरीज भी चुने गए थे।

करियर 17 अंतरराष्ट्रीय शतक, 11778 रन टेस्ट: 40 टेस्ट की 62 पारियों में 33.92 के औसत से 1900 रन हैं। 3 शतक व 11 अर्धशतक।
वनडे: 304 वनडे की 278 पारियों में 36.55 के औसत से 8701 रन। 14 शतक व 52 अर्धशतक।  टी-20: 58 टी-20 इंटरनेशनल भी खेले। इसमें 28.02 के औसत से 1177 रन बनाए।

 

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams