News Flash
Arrested the main accused in 72 hours

अमृतसर ब्लास्ट मामला : आईआईडी  व हथियार किए बरामद  , हमले के पीछे आईएसआई का हाथ : अमरिंदर

अमरिंदर ने बताया कि आईईडी और काफी मात्रा में हथियार बरामद किए गए हैं। उन्होंने कहा पाक व आईएसआई काफी एक्टिव हैं। हमले में मास्टरमाइंड आईएसआई है और उसने कुछ लोगों का इस्तेमाल कर इसे अंजाम दिया।

एजेंसी। चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अमृतसर स्थित निरंकारी मिशन में हुए ब्लास्ट में पाकिस्तान की आईएसआई का हाथ होने की पुष्टि की है।

बुधवार को उन्होंने बताया कि ब्लास्ट के 72 घंटों के भीतर पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस हमले में दो लोग शामिल थे। इनमें से एक 26 साल के बिक्रमजीत सिंह को पकड़ा गया है। उन्होंने कहा कि दूसरे आरोपी की भी पहचान कर ली गई है, उसका नाम अवतार सिंह है। जल्द ही वह पुलिस की गिरफ्त में होगा।

पुलिस ने हमले में इस्तेमाल बाइक को भी बरामद कर लिया है। रविवार को हुए इस हमले में तीन लोगों की जान चली गई थी और 20 लोग जख्मी हो गए थे। सीएम ने साफ कहा कि इसमें कोई भी सांप्रदायिक एंगल नहीं है, यह पूरी तरह से आतंकवाद का मामला है। निरंकारी मिशन को निशाना बनाया गया क्योंकि वहां मौजूद लोग आतंकियों का आसान टारगेट थे। उन्होंने बताया कि हमारे पास पहले से ही सूचना थी कि दूसरे संगठनों को निशाना बनाया जा सकता है और ऐसे में हमने एहतियाती कदम उठाए और हमले रोकने में कामयाब रहे।

पंजाब के सीएम ने पाक कनेक्शन के प्रूफ भी दिखाए। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया कि पंजाब में शांति कायम रखी जाएगी। उन्होंने कई तस्वीरें दिखाते हुए कहा कि पाकिस्तान शांति के माहौल को बिगाडऩे के लिए आतंकी संगठन खालिस्तान लिबरेशन फोर्स का इस्तेमाल कर रहा है। उन्होंने साफ कहा कि कश्मीर के बाद अब पाकिस्तान पंजाब, राजस्थान और गुजरात जैसे सीमावर्ती राज्यों को अशांत करना चाहता है।

इस्तेमाल ग्रेनेड पाकिस्तान का

मुख्यमंत्री अमरिंदर ने बताया कि इन लोगों ने पाकिस्तान की हथियार फैक्ट्री में बने ग्रेनेड का इस्तेमाल किया। इसका लाइसेंस पाक ऑर्डिनेंस फैक्ट्री के पास है। सीएम ने बताया कि हमले में जिस ग्रेनेड का इस्तेमाल हुआ, उसी तरह का कश्मीर में सुरक्षाबलों के खिलाफ किया जाता है।

 

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams