News Flash
ambika student lpu

कत्थक नृत्य की प्रस्तुति से जीता 11 राष्ट्राध्यक्षों का दिल

हिमाचल दस्तक। जालंधर
नई दिल्ली में 69वें रिपब्लिक-डे समारोह में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी की एनएसएस वालंटियर अंबिका मिश्रा ने अपनी प्रतिभा से सभी का मन मोह लिया। इस बार समारोह इसलिए विशेष था, क्योंकि इसके मुख्यातिथि एक नहीं अपितु 10 देशों के 10 राष्ट्राध्यक्ष थे। इस समारोह के सुबह के सत्र के दौरान LPU की बीटैक ईसीई द्वितीय वर्ष की छात्रा अंबिका एनएसएस वालंटियर् पर आधारित दल की एक गौरवांवित सदस्य थी, जिसने परेड के दौरान शानदार प्रदर्शन किया।

इसी तरह शाम के सत्र के दौरान अंबिका ने कत्थक डांस के लिए भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन मुख्यातिथियों के समक्ष राष्ट्रपति भवन में किया। अंबिका ने भारत की सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर द्वारा गाए गए अति भावनात्मक देश-प्रेम के गीत ‘वंदेमातरम’ पर भाव-भीनी
प्रस्तुति दी।

अंबिका को अब इन प्रस्तुतियों के लिए भारत के राष्ट्रपति द्वारा प्रमाण-पत्र भी मिलेगा

उल्लेखनीय है कि इस समारोह के लिए एलपीयू की छात्रा की चयन देश भर के 15 लाख से अधिक एनएसएस वालंटियर् के बीच में से उसकी विशेष परेड और परफॉरमेंस स्किलज को देखते हुए किया गया था। अकसर चयनित वालंटियर या तो परेड में भाग लेते हैं या अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हैं, लेकिन अंबिका भाग्यशाली रही कि उसका चयन दोनों क्षेत्रों के लिए ही हुआ और वह भी विश्व के एक साथ कई महान नेताओं के समक्ष प्रस्तुति करने का।

अंबिका को अब इन प्रस्तुतियों के लिए भारत के राष्ट्रपति द्वारा प्रमाण-पत्र भी मिलेगा। पश्चिमी बंगाल के बैरकपुर क्षेत्र की रहने वाली अंबिका ने एनएसएस सेवाओं के लिए एक ही वर्ष में 145 घंटों की सेवा अर्पित की है और इसीलिए उसे उत्तरी भारत के 7 राज्यों में से एक कैंप के दौरान चयनित किया गया था।

एलपीयू के चांसलर अशोक मित्तल ने कहा कि बावजूद इसके कि अंबिका टेकनोलॉजी की छात्रा है फिर भी उसने कभी अपनी प्रतिभा और जुनून को पीछे नहीं छोड़ा। मैं प्रसन्न हूं कि एक बार फिर हमारे प्रतिभाशाली विद्यार्थियों में से इस छात्रा ने अन्य विद्यार्थियों को भी यह महसूस कराया है कि आजकल अपने जुनून को सहेज कर रखना अति आवश्यक है। यदि अंबिका के अध्यापकों ने उसके जुनून की पहचान न की होती तो नई दिल्ली में इस वर्ष आयोजित विशेष रिपब्लिक डे समारोह का वह कभी कोई हिस्सा न बन पाती। मैं सभी विद्यार्थियों को सलाह देता हूं कि अपने पढ़ाई के साथ-साथ वे अपने जुनून को भी सदैव जीवंत रखें।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams