News Flash
ahoi ashtami vrat

नाहन में महिलाओं ने की जमकर खरीददारी

चंद्र ठाकुर। नाहन
जिला सिरमौर मुख्यालय नाहन में रविवार को महिलाओं ने करवा चौथ व्रत के बाद अहोई अष्टमी का व्रत के लिए खरीददारी की। प्रत्येक वर्ष कार्तिक कृष्ण पक्ष की अष्टमी को अहोई अष्टमी का व्रत मनाया जाता है। भारत में जहां करवाचौथ का व्रत पति की दीर्घायु के लिए रखा जाता है। वहीं अहोई अष्टमी का व्रत संतान की सुरक्षा व लंबी आयु के उदेश्य से रखा जाता है। उल्लेखनीय है कि दोनों व्रत ही निर्जल रखे जाते हैं, जो चंद्र व तारे दर्शन के बाद ही खोले जाते हैं। इस व्रत से यह संदेश भी जाता है कि हर कार्य बहुत सतर्कता व हर प्रकार के निरीक्षण व परीक्षण सोच विचार करने के बाद ही करना चाहिए।

क्या है अहोई अष्टमी

करवाचौथ के चार दिन बाद और दीपावली से एक सप्ताह पूर्व पडऩे वाला यह व्रत, पुत्रवती महिलाएं, पुत्रों के कल्याण, दीर्घायु व सुख समृद्धि के लिए निर्जल करती हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में सायंकाल घर की दीवार पर 8 कोनों वाली एक पुतली बनाई जाती है। इसके साथ ही स्याहू माता अर्थात सेई तथा उसके बच्चों के भी चित्र बनाए जाते हैं। अहोई माता का कैलेंडर दीवार पर लगा सकते हैं। पूजा से पूर्व चांदी का पैंडल बनवाकर चित्र पर चढ़ाया जाता है।

दीवाली के बाद अहोई माता की आरती करके उतार लिया जाता है। उसके बाद इसे अगले साल के लिए रख लिया जाता है। व्रत रखने वाली महिला की जितनी संतानें हों, उतने मोती इसमें पिरो दिए जाते हैं। जिसके यहां नवजात शिशु हुआ हो या पुत्र का विवाह हुआ हो, उसे अहोई माता का उजमन अवश्य करना चाहिए। पंजाब, हरियाणा व हिमाचल में इसे झकरियां भी कहा जाता है।

बच्चों के लिए खरीदे खिलौने व कपड़े

करवाचौथ के बाद रविवार को सिरमौर जिले के बाजारों में महिलाओं ने अहोई अष्टमी की जमकर खरीदारी की। रविवार सुबह से ही महिलाएं को बच्चों की पंसद का सामान खरीदते देखा गया। नाहन बाजार में मौजूद खिलौनों, मिठाईयां, फल वालों से गन्ने-मूली व कपडों की दुकानों पर महिलाओं की भीड़ अधिक दिखाई दी। नाहन शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाएं भी खरीदारी करने पहुंची थी।

नाहन बाजार में दुकानदारों ने जमकर कमाई की। बाजार में खरीदारी को पहुंची माया, अंजना, राधा, सुनीता, नीलम, श्यामा, माया, कुसुम, बिंदिया ने बताया कि वे बच्चों के व्रत के लिए खरीदारी करने पहुंची हैं। इस बार बाजार में काफी महंगी दरों पर सामान मिल रहा।

यह भी पढ़ें – 2019 में केंद्र की मोदी सरकार की होगी विदाई – राजेंद्र राणा

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams