News Flash
smarter girl

सार-सरिता

बहुत साल पहले की बात है। एक छोटे गांव में किसी व्यापारी ने बदकिस्मती से एक साहूकार से ज्यादा पैसे ले रखे थे। साहूकार, अपने पैसो के बदले में व्यापारी से सौदा करना चाहता था। वो कहता था कि यदि उसकी शादी व्यापारी की खुबसूरत बेटी से हुई तो वह उसके द्वारा लिए पैसों को भूल जाएगा। उन्हें एक युक्ति सुझी। व्यापारी ने कहा कि उसने एक खाली बैग में एक सफेद और एक कला कंकड़ रखा है। उस लड़की को बैग में से कोई भी एक कंकड़ निकालना था।

यदि उसकी बेटी ने काला कंकड निकाला तो वह लड़की साहूकार की पत्नी बन जाएगी और उसके पिता का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। यदि उस लड़की ने सफेद कंकड़ निकाला तो उस लड़की की साहूकार से शादी नहीं होगी और उसके पिता का कर्ज भी माफ कर दिया जाएगा। यदि उस लड़की ने कंकड़ निकालने से मना किया तो उसके पिता को जेल जाना होगा। उस समय पिता और बेटी व्यापारी कंकड़ भरे रास्ते पर खड़े थे। जैसा की साहूकार और उनके बिच सौदा हुआ था।

साहूकार दो कंकड़ उठाने के लिए नीचे झुका। जैसे ही साहूकार ने दो कंकड़ उठाए उस लड़की की तीखी नजरों को दिख गया कि साहूकार ने दोनों की काले कंकड़ उठाए और उन्हें ही बैग में डाला है। और ऐसा करने के बाद साहूकार ने उस लड़की को बैग में से कोई एक कंकड़ चुनने कहा। लड़की ने बैग में हाथ डाला और कंकड़ बाहर निकाले। उसने एक कंकड़ रास्ते पर गिरा दिया। यह दूसरों से मिल गया। लड़की कहा, बैग में जो कंकड़ बचा हुआ है, उससे पता कर सकते है कि मैंने कौन सा कंकड़ चुना था। अब बैग से काला कंकड़ ही निकला। इस तरह साहूकार अपने धोखे से शर्त हार गया।

यह भी पढ़ें – प्रेरक प्रसंग – परिणाम को ध्यान में रखना चाहिए

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams