bcci

बीसीसीआई ने कहा कि खेल में आयु धोखाधड़ी को लेकर बीसीसीआई की शून्य सहिष्णुता की नीति है

नई दिल्ली
बीसीसीआई ने मंगलवार को घोषणा की कि उम्र में धोखाधड़ी के दोषी पाए जाने वाले क्रिकेटर को उसके सभी मान्यता प्राप्त टूर्नामेंटों से दो साल के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा। बीसीसीआई ने कहा कि खेल में आयु धोखाधड़ी को लेकर बीसीसीआई की शून्य सहिष्णुता की नीति है और बीसीसीआई के टूर्नामेंट में पंजीकरण के दौरान जन्म तिथि के प्रमाण पत्र से छेड़छाड़ के दोषी क्रिकेटरों के खिलाफ कड़ी कार्वाई की गई है।

उन्होंने कहा, सत्र की शुरुआत में जैसा की राज्य संघों को बताया गया, बीसीसीआई दोहराना चाहता है कि 2018-19 सत्र से जो भी क्रिकेटर अपनी जन्म तिथि से छेड़छाड़ का दोषी पाया जाता है उसे अयोग्य घोषित किया जाएगा और बीसीसीआई के किसी भी टूर्नामेंट में खेलने से दो साल के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा, जो 2018-19 और 2019-2020 सत्र होगा।

इससे पहले क्रिकेटर पर एक साल का प्रतिबंध लगता था। सितंबर में बीसीसीआई ने मेघालय की ओर से खेलने जा रहे दिल्ली के खिलाड़ी जसकीरत सिंह सचदेवा को अंडर 19 टूर्नामेंट में खेलने के लिए जाली जन्म प्रमाण पत्र देने पर प्रतिबंधित कर दिया था।

यह भी पढ़ें – केंद्रीय टीम ने ली नुकसान की रिपोर्ट

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams