News Flash
career kohli

विराट को सपॉर्ट करने पर अध्यक्ष पद से हटा दिया – वेंगसरकर

धोनी और कोच गैरी कस्टर्न चयन को लेकर थे आशंकित

मुंबई
चयनकर्ता के रूप में विराट कोहली जैसे खिलाड़ी के चयन को मास्टरस्ट्रोक कहा जा सकता है, लेकिन पूर्व भारतीय कप्तान दिलीप वेंगसरकर के लिए यह राष्ट्रीय चयनकर्ता के तौर पर करियर खत्म करने वाला था। वेंगसरकर ने दावा किया कि 2008 में घरेलू क्रिकेट के बड़े खिलाड़ी तमिलनाडु के एस बद्रीनाथ की जगह कोहली का चयन करने कारण उन्हें राष्ट्रीय चयन समिति के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया। उन्होंने इसके लिए बीसीसीआई के तत्कालीन सचिव एन श्रीनिवासन को जिम्मेदार बताया।

मुंबई मराठी पत्रकार संघ के कार्यक्रम में वेंगसरकर ने उस घटना को याद करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया में युवाओं के लिए एमर्जिंग प्लेयर्स टूर्नामेंट हो रहा था, जिसमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका और न्यूजीलैंड की टीमें थी। मैं और मेरे सहयोगियों ने फैसला किया कि हम वहां अंडर-23 खिलाडिय़ों को भेजेंगे और उस समय भारत ने अंडर-19 विश्व कप का खिताब जीता था, विराट कोहली अंडर-19 टीम के कप्तान थे और मैंने टीम में उनका चयन किया।

वेंगसरकर ने कहा कि वह (कोहली) तकनीकी रूप से ज्यादा दक्ष थे और मुझे लगा उन्हें खेलना चाहिए। हम श्रीलंका दौरे पर जा रहे थे और मुझे लगा की यह सही समय है जब उसे राष्ट्रीय टीम में होना चाहिए। मेरे चार सहयोगियों( अन्य चयनकर्ताओं) ने कहा कि वे मेरे फैसले के साथ है। वेंगसरकर ने दावा किया कि धोनी और कोच गैरी कस्ट्र्न इस चयन को लेकर आशंकित थे। इस मुद्दे पर श्रीनिवासन भी उनके खिलाफ थे, जिससे उनकी नौकरी चली गई। उन्होंने कहा कि हालांकि कस्टर्न और धोनी ने कहा कि हमने उसे देखा नहीं है और हम पिछली टीम के साथ खेलना जारी रखेंगे। मैंने उन्हें कहा कि आपने नहीं देखा है लेकिन मैंने देखा है और हमें इस खिलाड़ी को टीम में लेना होगा।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams