virat kohli

कप्तान विराट बोले, बल्लेबाजों को भी करना होगा अच्छा प्रदर्शन

जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी की जमकर की प्रशंसा

केपटाउन
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विराट कोहली के गेंदबाजों ने 20 विकेट लेकर बेहतरीन प्रदर्शन दिया, लेकिन भारतीय क्रिकेट कप्तान का कहना है कि अगर आने वाले मैचों में बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं करते हैं, तो इतने विकेट लेने का कोई मायने नहीं रह जाएगा। भारतीय टीम पहली और दूसरी पारी में क्रमश: 209 और 135 रनों पर ही सिमट गई थी।

पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम को 72 रनों से हार का सामना करना पड़ा है। कोहली ने मैच के बाद कहा, किसी भी टेस्ट मैच को जीतने के लिए 20 विकेट लेना प्राथमिकता है, लेकिन अगर आपके बल्लेबाजों ने अच्छी बल्लेबाजी नहीं की तो इसका कोई मायने नहीं रह जाता है। अगर आप विपक्षी टीम के कुल रन के करीब नहीं पहुंचते हैं तो यह कोई मायने नहीं रखता कि आपने 20 विकेट लिया है या नहीं। हमने जैसी बल्लेबाजी की उससे अच्छी बल्लेबाजी करने की जरूरत थी।

दूसरी पारी में दक्षिण अफ्रीका को 130 रनों पर समेट कर जीत के लिए 208 रनों का लक्ष्य रखने के लिए कप्तान ने गेंदबाजों के हमले की बड़ाई की। कोहली की आवाज से हार की निराशा साफ झलक रही थी। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से हम गेंदबाजों के लिए अच्छा महसूस कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने दिल लगाकर अच्छी गेंदबाजी की।

जसप्रीत (बुमराह) ने अपने पहले टेस्ट मैच में अच्छी गेंदबाजी की। मोहम्मद शमी ने भी बढिय़ा गेंदबाजी की। इस टेस्ट मैच में हार्दिक पांड्या द्वारा किए गए प्रयासों की भी प्रशंसा कप्तान ने की। उन्होंने पहले टेस्ट मैच में रोहित शर्मा के चयन का बचाव करते हुए कहा कि अजिंक्य रहाणे की जगह शर्मा को वरीयता उनके हालिया प्रदर्शन के आधार पर दी गई थी।

फॉर्म को देखते हुए रोहित को रहाणे पर दी तरजीह

केपटाउन। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पहले क्रिकेट टेस्ट में रोहित शर्मा के चयन को सही ठहराते हुए कहा कि मौजूदा फॉर्म के आधार पर उन्हें अजिंक्य रहाणे पर तरजीह दी गई। कोहली ने कहा कि हमने मौजूदा फॉर्म के आधार पर फैसला लिया। रोहित ने पिछले तीन टेस्ट में रन बनाए हैं और वह अच्छी बल्लेबाजी कर रहा है।

श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में भी उसने रन बनाए। उन्होंने कहा कि अगर या मगर तो हमेशा रहेगा, लेकिन हमने इस संयोजन को उतारने का फैसला लिया और मौजूदा फॉर्म एक मानदंड था। रहाणे चार साल पहले दक्षिण अफ्रीका दौरे पर सफल रहे थे। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा ( 280 ) और कोहली ( 272 ) के बाद सर्वाधिक 209 रन बनाए। भारत को पहले टेस्ट में 72 रन से पराजय झेलनी पड़ी और बल्लेबाजों ने दोनों पारियों में निराश किया।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams