News Flash
India Series, Windies desperate to win the match
  • दोनों टीमों के बीच आखिरी वन डे मैच कल
  • तीन मैचों की सीरीज में भारत 1-0 से आगे
  • एक मैच बारिश की वजह से हुआ था रद
  • शिखर धवन की नजरें बड़ी पारी खेलने पर
  • शमी की जगह नवदीप सैनी को मिल सकता है मौका
  • अय्यर की पारी ने बढ़ाई ऋषभ पंत की परेशानी

पोर्ट ऑफ स्पेन : सलामी बल्लेबाज शिखर धवन लगातार चार मैचों में विफल रहने के बाद बड़ी पारी खेलने के लिए बेताब होंगे, जबकि भारत बुधवार को यहां वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे और अंतिम एकदिवसीय मैच में एक और सीरीज जीतने के इरादे से उतरेगा। टी-20 सीरीज में 1, 23 और तीन रन की पारियां खेलने वाले धवन दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में सिर्फ दो रन बना पाए थे, जिससे चोट के बाद उनकी वापसी अच्छी नहीं रही।

धवन को अंदर आती गेंद पर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और उन्हें दो बार तेज गेंदबाज शेल्डन कोटरेल ने आउट किया। धवन टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं हैं और ऐसे में वह अपने कैरेबियाई दौरे का अंत यादगार पारी खेलकर करना चाहेंगे। भारतीय टीम में चौथे नंबर पर जगह पक्की करने को लेकर द्वंद्व चल रहा है और श्रेयस अय्यर ने दूसरे वन डे में शानदार पारी खेलकर ऋषभ पंत पर दबाव बढ़ा दिया है। पंत को टीम प्रबंधन विशेषकर कप्तान विराट कोहली का समर्थन हासिल है, लेकिन उनकी लगातार विफलता और दूसरे वन डे में अय्यर की 68 गेंद में 71 रन की पारी से चीजें बदल गई हैं। पंत की मानसिकता चिंता का विषय है क्योंकि उन्होंने कई मौकों पर अपना विकेट गंवाया है।

कोई भी टीम इस महत्वपूर्ण स्थान पर धैर्यवान बल्लेबाज को उतारना चाहेगी और रविवार को खेली पारी से अय्यर ने अपना दावा मजबूत किया है। दूसरे वन डे में 125 गेंद में 120 रन की पारी खेलने वाले कप्तान कोहली भी अपनी फार्म को जारी रखना चाहेंगे। धवन, रोहित शर्मा और पंत के जल्द आउट होने के बाद कोहली ने अय्यर के साथ मिलकर पारी को संवारा था।

भुवनेश्वर कुमार ने पिछले मैच में आठ ओवर में 31 रन देकर चार विकेट चटकाते हुए भारत के लिए शानदार प्रदर्शन किया था और यह तेज गेंदबाज अपने इस शानदार प्रदर्शन को दौरे के आगामी मैचों में दोहराना चाहेगा। भुवनेश्वर के तेज गेंदबाजी जोड़ीदार मोहम्मद शमी (39 रन पर दो विकेट) और कुलदीप यादव (59 रन पर दो विकेट) ने भी दो-दो विकेट चटकाए थे। बाएं हाथ के स्पिनर कुलदीप हालांकि रन गति पर अंकुश लगाने की कोशिश करेंगे। टीमें जीत दर्ज करने वाली एकादश में बदलाव को प्राथमिकता नहीं देती, लेकिन कोहली अंतिम वन डे में शमी को आराम देकर नवदीप सैनी को मौका दे सकते हैं।

दूसरी तरफ वेस्टइंडीज की टीम मैच जीतकर सीरीज बराबर करने के लिए बेताब होगी। भारत को हराने के लिए हालांकि वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों को अधिक जिम्मेदारी के साथ खेलना होगा। टीम के पास शाई होप, शिमरोन हेटमायर और निकोलस पूरण जैसे प्रतिभावान बल्लेबाज हैं, लेकिन इन्हें उम्मीदों पर खरा उतरना होगा। एकदिवसीय सीरीज के बाद दोनों टीमें एंटीगा के नार्थ साउंड में 22 अगस्त से दो मैचों की टेस्ट सीरीज में हिस्सा लेंगी।

टीमें इस प्रकार हैं :

भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, रविंद्र जडेजा, कुलदीप
यादव, युजवेंद्र चहल, केदार जाधव, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, खलील अहमद और नवदीप सैनी।
वेस्टइंडीज: जेसन होल्डर (कप्तान), क्रिस गेल, जान कैंपबेल, एविन लुईस, शाई होप, शिमरोन हेटमायर, निकोलस पूरण, रोस्टन चेज, फैबियन एलेन, कार्लाेस ब्रैथवेट, कीमो पाल, शेल्डन कोटरेल, ओशेन थामस और केमार रोच।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams