sandeep

फ्लिकर सिंह के नाम से मशहूर हैं पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान

हिमाचल दस्तक। जयपुर
जयपुर के नाहरगढ़ किले में जयपुर वैक्स संग्रहालय में भारत के पूर्व हॉकी कप्तान संदीप सिंह की मोम की मूर्ति स्थापित की जाएगी। संदीप ने कहा, यह मेरे लिए बड़े सम्मान की बात है। मैं जयपुर वैक्स संग्रहालय द्वारा मेरी मूर्ति लगाने के फैसले से अभिभूत हूं। संग्रहालय अधिकारियों ने इस प्रस्ताव के साथ दो महीने पहले मुझे संपर्क किया था और मैंने तुरंत इस पर हामी भर दी। मेरी मूर्ति का अनावरण जुलाई महीने में किया जाएगा और उसी समय 13 जुलाई को मेरी जिंदगी पर बनी फिल्म भी रिलीज होगी।

संग्रहालय के निदेशक अनूप श्रीवास्तव ने बताया कि फ्लिकर सिंह के नाम से मशहूर संदीप ने भारतीय हॉकी को कई स्वर्णिम क्षण प्रदान किए हैं, उनका सफर नई पीढी को प्रेरणा देने वाली रहा है और उनसे जिंदगी को जीने का तरीका सीखना चाहिए। वर्ष 2006 में एक राष्टी्य शिविर में भाग लेने जा रहे संदीप को रेल यात्रा के दौरान दुर्घटनावश अनजाने में गोली लग गई थी। इससे निचली पसली में फ्रेक्चर हो गई थी और इससे उनके अग्नाशय में छेद हो गया था। इससे उनके गुर्दे और यकृत क्षतिग्रस्त हो गए थे।

उनकी रीढ की हड्डी का एक हिस्सा भी प्रभावित हुआ था जिसे चिपकाया गया था। इन सब विपरीत शारीरिक परिस्थितियों के बावजूद संदीप ने दो वर्ष के स्वास्थ्य लाभ के बाद खेल के मैदान में सफलतापूर्वक वापसी की सुल्तान अजलान शाह कप में भारत को दूसरा स्थान दिलवाया। यह सफलता अर्जित कर वे आगे बढ़े और वर्ष 2009 में भारत की टीम के कप्तान बने।

जयपुर मोम संग्रहालय में स्थापित हैं इनकी मूर्तियां1

जयपुर मोम संग्रहालय में महाराणा प्रताप, महात्मा गांधी, सुभाष चंद्र बोस, भगत सिंह, मदर टेरेसा, अमिताभ बच्चन, सचिन तेंदुलकर, जयुपर के पूर्व शासकों सहित अन्य महान विभूतियों की मोम और सिलिकॉन की मूर्तियां लगाई गई हैं। संग्रहालय में जुलाई माह में लगने वाली संदीप सिंह की मोम की मूर्ति लगने के बाद संग्रहालय में मोम के मूर्तियों की संख्या 36 हो जाएगी।

 

यह भी पढ़ें – हरजीत ने नूरपुर बस हादसे के मृतक बच्चों को समर्पित किए दोनों गोल्ड मेडल

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams