cricketer kuldeep yadav

कप्तान ने गेंदबाजी करने में दी आजादी

अपनी काबिलियत पर भरोसा रखना होगा

कोलकाता
कलाई के स्टार स्पिनर कुलदीप यादव का मानना है कि अगर कप्तान विराट कोहली ने उन्हें गेंदबाजी आक्रमण करने की आजादी नहीं दी होती, तो वह अंतरराष्ट्रीय मंच पर इतने सफल नहीं हुए होते। कुलदीप ने कहा कि आपको बड़े मंच पर चमकने के लिए एक ऐसे कप्तान की जरूरत होती है, जो आपका समर्थन करे और आपकी काबिलियत पर भरोसा रखे। आपको लगता है कि अगर हमें कोहली भाई ने आक्रमण करने की आजादी नहीं दी होती, तो क्या हम इतने सफल हो सकते थे।

कोलकाता नाइटराइडर्स के लिए खेलने वाले कुलदीप को इस साल आईपीएल में ईडन गार्डन्स की बल्लेबाजों की मुफीद पिच पर काफी निराशा हाथ लगी, क्योंकि उन्हें नौ मैचों में केवल चार ही विकेट मिले, जिसके बाद उनकी फे्रंचाइजी ने टूर्नामेंट के अंत में उन्हें अंतिम एकादश से बाहर कर दिया। 24 साल के खिलाड़ी ने कहा कि वह आईपीएल निराशा को पीछे छोड़कर 30 मई से शुरू होने वाले आगामी विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करना चाहते हैं।

कुलदीप ने महेंद्र सिंह धोनी पर उनकी टिप्पणी से हुए ताजा विवाद के बारे में भी बात की कि कभी कभार पूर्व कप्तान के टिप्स गलत हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि मेरे जैसा युवा टीम के इतने वरिष्ठ सदस्य के बारे में इस तरह की टिप्पणियां कैसे कर सकता है? मीडिया ने मेरे बयान को तोड़ मरोड़ के पेश किया, ताकि विवाद पैदा हो जाए।

विश्व कप की तुलना में आईपीएल काफी अलग

आईपीएल विश्व कप की तुलना में काफी अलग है। ऐसे भी खिलाड़ी हैं, जिन्होंने आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन वे देश के लिए इतना बेहतर नहीं कर पाए। मैं गेंदबाज के तौर पर काफी परिपक्व हुआ हूं और विश्व कप में आईपीएल के प्रदर्शन का बिलकुल असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अगर मुझे विकेट नहीं मिल रहे, तो इसका मतलब यह नहीं है कि मैं अच्छी गेंदबाजी नहीं कर रहा हूं।

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams