News Flash
diesel-vehicles

एजेंसी। नई दिल्ली : टोयोटा किर्लाेस्कर मोटर (टीकेएम) ने कहा है कि अगले साल अप्रैल से भारत स्टेज-छह उत्सर्जन मानक लागू होने के बाद उसके डीजल वाहनों के दाम 15 से 20 प्रतिशत बढ़ जाएंगे। कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। टीकेएम जापान की वाहन कंपनी टोयोटा और किर्लाेस्कर समूह का संयुक्त उद्यम है। कंपनी ने कहा कि उद्योग में वृद्धि के लिए जरूरी है कि दीर्घावधि के रचनात्मक समाधान के लिए माल एवं सेवा कर (जीएसटी) की दर में कटौती की जाए।

टीकेएम के उप प्रबंध निदेशक एन. राजा ने कहा कि बीएस-चार से बीएस-छह में जाने से हमारे डीजल वाहनों के दाम 15 से 20 प्रतिशत तक बढ़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके अलावा प्रतिकूल विनिमय दरों की वजह से कंपनी अपने वाहनों के दाम बढ़ाने पर विचार कर रही है। अभी तक कंपनी ने कीमतों में वृद्धि को रोका हुआ है।

कंपनी के ज्यादातर लोकप्रिय मॉडल मसलन इनोवा और फॉच्र्यूनर डीजल पावरट्रेन के साथ बेचे जाते हैं। जनवरी से जुलाई 2019 तक कंपनी के कुल वाहनों की बिक्री में डीजल-पेट्रोल का अनुपात 82:18 था। वहीं यदि यात्री वाहन खंड की बात की जाए, तो पेट्रोल-डीजल अनुपात 50:50 का है। राजा ने कहा कि बाजार में सुस्ती की वजह से विनिर्माता और डीलर ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कई रियायतें दे रहे हैं।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams


[recaptcha]