News Flash
whatsapp

फर्जी संदेशों के प्रचार-प्रसार के आरोपों से घिरी है सोशल मीडिया कंपनी

नई दिल्ली। फर्जी संदेशों के प्रचार-प्रसार को लेकर घिरी सोशल मीडिया कंपनी व्हॉट्सएप सुरक्षा और निजता जैसे मुद्दों पर ध्यान केंद्रित कर रही है। व्हॉट्सएप के उपाध्यक्ष क्रिस डेनियल्स ने बुधवार को कहा कि कंपनी सुरक्षा और निजता जैसे मूल्यों पर ध्यान दे रही है ताकि यह सुनिश्चित कर सके कि उसका उत्पाद अभी तक लोगों के लिए एक साधन है। जिसका उपयोग वे अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में संवाद स्थापित करने के लिए करते हैं।

सरकार ने फेसबुक की स्वामित्व वाली व्हॉट्सएप को फर्जी संदेशों और खबरों पर रोक लगाने के लिए आवश्यक कदम उठाने को कहा है। व्हॉट्सएप ने उद्यमियों तथा सूक्ष्म एवं मझोले उद्यमों को उनके कारोबारी विस्तार में मदद के लिए इन्वेस्ट इंडिया के साथ भागीदारी की है।
डेनियल्स ने कहा कि कंपनी चार मूल्यों- सादगी, गुणवत्ता, सुरक्षा एवं निजता पर ध्यान दे रही है। कंपनी जो भी कुछ कर रही है वह इन मूल्यों को ध्यान में रखकर कर रही है। कंपनी यह सुनिश्चित करना चाहती है कि उसका उत्पाद अभी भी उपयोगकर्ताओं के लिए बातचीत करने का साधन बना हुआ है।

1.3 अरब डॉलर उपयोगकर्ता

व्हॉट्सएप के उपयोगकर्ता की संख्या 1.3 अरब डॉलर है। भारत में उसके 20 करोड़ से ज्यादा उपयोगकर्ता हैं। फर्जी संदेश फैलने के बाद देश भर में पीट-पीटकर हत्या की घटनाओं के बाद सरकार व्हॉट्सएप से इस तरह की सूचनाएं रोकने के लिए जरूरी कदम उठाने का दबाव डाल रही है। साथ ही उसने फर्जी संदेशों के स्त्रोत के बारे में जानकारी देने को भी कहा है। हालांकि, व्हॉट्सएप ने सरकार की इस मांग को खारिज करते हुए कहा था कि इससे उपयोगकर्ताओं की निजता प्रभावित होगी।

यह भी पढ़ें – 20 रुपये किलो लिए जाएंगे सेब

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams