News Flash
CM IT cell told Fake SDM to find evidence on the spot

कुफरधार के लोग एसडीएम से बोले वीडियो वायरल करने के सिवाय नहीं था चारा , आईपीएच महकमा नहीं लेता सुध

ललित ठाकुर । पधर  : चौहारघाटी घाटी के लटराण पंचायत के कुफरधार में सोशल मीडिया में वायरल बरसात के तालाब के पानी को पीते महिला और बच्चों के वीडियो को मुख्यमंत्री के सूचना एवं प्रौद्योगिकी तंत्र ने जांच पड़ताल से पहले ही फेक करार दे दिया। यही नहीं आईटी सेल ने वीडियो को संबंधित क्षेत्र का भी नहीं होना बताया है ।

  जबकि मामले की जांच के लिए एसडीएम पधर शिव मोहन सैनी और आईपीएच विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने बीते शुक्रवार को मौके पर पहुंचे । एसडीम शिव मोहन सैनी ने मौके पर जाकर जायजा लेकर कुफरधार में पंद्रह सोलह किसानों की दोघरियाँ पाई।
 उन्होंने वर्ष 1996 में आईपीएच विभाग द्वारा बिछाई गईं  पेयजल लाइन और नल कनेक्शन भी मौके पर पाए गए। वही आइपीएच के आला अधिकारी जिस पाईप लाइन को न बिछाने की बात कर रहे थे अब उंन्होने भी अपने बोल बदल दिए है और पाइप लाइन को विभाग द्वारा बिछाने की बात कह रहे है ।  लेकिन पानी की एक बूंद भी नही टपकी ।

इस दौरान स्थानीय ग्रामीणों ने पेयजल समस्या की किल्लत का मामला एसडीएम के समक्ष प्रमुखता से उठाया । उन्होंने बताया कि वह जनवरी महीने में मधरण गांव से कुफरधार के लिए शिफ्ट हो जाते हैं। लगभग 8 महीने तक उनका कुफरधार में ही बसेरा रहता है ।अपने मवेशियों और परिवार सहित तमाम ग्रामीण खेती-बाड़ी के काम के लिए उधर पहुंचते हैं ।लेकिन सबसे बड़ी समस्या पीने के पानी की सताती है। उन्होंने बताया कि वर्ष 1996 में आईपीएच विभाग ने यहां उनके लिए पेयजल उपलब्ध करवाया था लेकिन उसके बाद आईपीएच विभाग ने गांव की कोई सुध नहीं ली। गांववासियों के मुताबिक पानी के बिना जीवन नहीं है। जबकि ग्रामीण बिजली की रोशनी भले ही ना हो मिट्टी के तेल का लेंप जलाकर अपना गुजर-बसर करते हैं ।

गांव की महिलाओं ने बताया कि बिजली से अधिक पानी की कमी महसूस होती है। क्योंकि अधिकतर लोगों के पास सोलर लाइट हैं। जिससे रोशनी की व्यवस्था हो जाती है ।उन्होंने बताया कि समस्या को बीते वर्ष धमच्याण में आयोजित जनमंच कार्यक्रम के दौरान उद्योग मंत्री के समक्ष प्रमुखता से उठाया था। जिस दौरान आईपीएच महकमे ने 2 सप्ताह के भीतर ग्रामीणों को पेयजल उपलब्ध कराने का आश्वासन भी दिया था ।लेकिन उसके बाद आईपीएस महकमा ग्रामीणों की समस्या को भूल गया । ऐसे में सरकार को जगाने के लिए उन्होंने तालाब के पानी का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया में वायरल किया । जिसके बाद सरकार चेती लेकिन सरकार के आईटी सेल ने वीडियो को फेक करार दे दिया।

उन्होंने कहा कि कुफरधार में गांव के सभी ग्रामीणों की उपजाऊ जमीन है। जहां आलू , गेंहू , मक्की , मटर और नगदी फसलों की खेती ग्रामीण करते हैं ।लेकिन दिन भर कड़ी मेहनत करने के बाद उन्हें मजबूरन बरसात का रुका हुआ कीचड़ युक्त पानी पीना पड़ता है । ग्रामीणों ने एसडीएम शिव मोहन सैनी से गुहार लगाई है कि उनकी समस्या को गंभीरता से लेते हुए शीघ्र अति शीघ्र निजात दिलाई जाए। जब एसडीएम से पूछा गया कि मुख्यमंत्री का आईटी कार्यालय से वायरल वीडियो को बिना जांच किये झूठ बता रहा है और सम्बन्धित क्षेत्र की नही है तो उन्होंने बताया कि इस बारे में मुझे मालूम नही है ।

एसडीएम के साथ मौके पर जाकर जायजा लिया गया है वर्ष 1995 में बिछाई गयी पाइपलाइन ग्लेशियर आने के कारण टूट गई है विभाग ने लगभग 3 किलोमीटर लाइन का एस्टीमेट बनाकर डीसी मंडी को भेजा है डीसी मंडी धन का प्रावधान करते हैं तो नई पाइपलाइन यहां बिछाई जाएगी । –डीसी रावत एसडीओ आईपीएच।

आईपीएच महकमे को साथ लेकर मौके का निरीक्षण किया गया है कुफरधार में 15 -16 किसानों के दोघरे सहित उपजाऊ जमीन पाई गई हैं । वही पुरानी पाइप लाइन और नल के कनेक्शन भी मौजूद हैं। लोकल एरिया होने पर यहां के ग्रामीण अस्थाई तौर पर यहां रहते हैं खेती-बाड़ी ग्रामीणों की आजीविका है। मामले की पूरी रिपोर्ट तैयार करके डीसी मंडी को भेजी गई है। यहां से आगामी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी । ग्रामीणों को पानी उपलब्ध करवाया जाएगा । 

–शिव मोहन सिह सैनी , एसडीएम पधर 

ग्रामीणों ने एसडीएम का मौके पर आने के लिए जताया आभार 

ग्रामीणों में अमर सिंह, भाग सिंह, सोजी देवी, सुनीता देवी, राम सिंह, टेक चंद, हिमी देवी, बरती देवी, सौणी देवी, कली देवी आदि समस्त ग्रामीणों ने एसडीएम पधर शिव मोहन सिंह सैनी सहित समस्त टीम का कुफरधार में पहुंचने के लिए धन्यवाद किया है और समस्या का जल्द ही समाधान करने का आश्वासन उपस्थित ग्रामीणों को दिया है । वही लोगो का कहना है कि पानी से सम्बंधित पहले भी विभाग को पंचायत के माध्यम से प्रस्ताव दिए थे लेकिन विभाग ने ग्रामीणों की एक नही सुनी ।

This is Rising!

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams