News Flash
trump

उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोग उन से मुलाकात से पहले बोले अमेरिकी राष्ट्रपति

वॉशिंगटन
अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन के साथ अपनी प्रस्तावित बातचीत को लेकर बड़ा बयान दिया है। ट्र्रम्प ने कहा कि उत्तर कोरिया से बातचीत या तो बिना किसी नतीजे के खत्म होगी या फिर यह दुनिया के लिए सबसे बड़ी डील होगी जिससे दोनों देशों के बीच तनाव घटेगा।

वेस्टर्न पेंसिलवेनिया में रिपब्लिकन कांग्रेसनल कैंडिडेट रिक सैकोन के पक्ष में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि अगर उन्हें लगा कि बातचीत में प्रगति संभव नहीं है तो वह जल्द ही उसे छोड़ देंगे। ट्रम्प ने कहा कि उन्हें लगता है कि उत्तर कोरिया शांति चाहता है और यह उसके लिए सबसे उपयुक्त समय है। ट्रम्प और किम की मुलाकात का समय और स्थान अभी तय नहीं है, लेकिन माना जा रहा है कि यह मुलाकात मई के आखिर में हो सकती है।

मुझे यकीन है कि वे इस प्रतिबद्धता का सम्मान करेंगे

ट्रम्प ने कहा कि किसे पता कि क्या होने वाला है। उन्होंने आगे कहा कि अगर मुलाकात होती है तो मैं या तो तेजी से बातचीत को छोड़ दूंगा या हम एक साथ बैठकर दुनिया के लिए सबसे शानदार समझौता करेंगे। ट्रम्प ने वीरवार को उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन से मुलाकात का चौंकाने वाला ऐलान किया था।

दरअसल व्हाइट हाउस का दौरा करने आए दक्षिण कोरियाई प्रतिनिधिमंडल ने ट्रंप को उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन के बातचीत के न्योते की जानकारी दी थी। इससे पहले वॉशिंगटन में ट्रम्प ने संभावित बातचीत को अंतरराष्ट्रीय समर्थन के लिए कहा था कि उत्तर कोरिया इस बात पर सहमत हो गया है कि जब तक प्रस्तावित मुलाकात नहीं होती, तब तक वह कोई मिसाइल परीक्षण नहीं करेगा। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने ट्विटर पर लिखा, उत्तर कोरिया ने 28 नवंबर 2017 के बाद से कोई भी मिसाइल परीक्षण नहीं किया है और वादा किया है कि हमारी मुलाकात होने तक वह ऐसा नहीं करेगा। मुझे यकीन है कि वे इस प्रतिबद्धता का सम्मान करेंगे।

यूरोप की कारों पर कर लगाने की चेतावनी

वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने यूरोप से आयातित कारों पर भारी आयात शुल्क लगाने की चेतावनी दी है। ट्रंप ने कहा कि यदि अमेरिका द्वारा एल्युमीनियम और इस्पात पर आयात शुल्क लगाने के फैसले के खिलाफ यूरोपीय संघ किसी तरह की कार्रवाई करता है, तो यूरोप की कारों पर आयात शुल्क लगाया जाएगा। ट्रंप ने इस्पात पर25 प्रतिशत तथा एल्युमीनियम पर10 प्रतिशत का आयात शुल्क लगाने की आधिकारिक घोषणा की थी।

वहीं, यूरोपीय संघ ने चेताया था कि यदि अमेरिका यह कदम उठाता है तो वह इसके जवाब में कार्रवाई करेगा और विशेष रूप से रेड डिस्ट्रिक्ट में बने उत्पादों पर आयात शुल्क लगाएगा। ट्रंप ने चेताया है कि यदि ईयू ऐसी कोई कार्रवाई करता है तो यूरोप से आयातित कारों पर कर लगाया जाएगा। ट्रम्प ने को ट्वीट किया, यूरोपीय संघ, शानदार देश को व्यापार को लेकर अमेरिका के साथ गलत बर्ताव करते हैं, अब इस्पात और एल्युमीनियम पर शुल्क की शिकायत कर रहे हैं।

ट्रम्प का नया नारा, अमेरिका को महान बनाए रखना है

मून टाउनशिप। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के अमेरिका को महान बनाए रखें के नए नारे से 2020 के आगामी चुनाव अभियान की आहट अभी से सुनाई देने लगी है। अपने राजनीतिक भविष्य का अभियान शुरू करने के पहले पिट्सबर्ग के उपनगर में रैली को संबोधित करते हुए ट्रंप ने अमेरिकी कांग्रेस के आगामी विशेष चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार का समर्थन किया और अपने समर्थकों के सामने यह नया नारा दिया।

ट्रंप ने कहा कि जब हम शुरूआत कर रहे हैं, क्या आप विश्वास करेंगे, अब से दो साल में हमारा नया नारा होगा, अमेरिका को महान बनाए रखना है। वर्ष 2016 के चुनाव अभियान में ट्रंप का नारा अमेरिका को फिर से महान बनाना है छाया हुआ था। रैली के दौरान उनके कई समर्थक हैट लगाए हुए थे, जिस पर नारा लिखा हुआ था।

Comments

Coming soon

Career Counsling

Get free career counsling and pursue your dreams